लाइव टीवी
होम » वीडियो » बिहार

VIDEO: जमीनी विवाद में फोड़ दी युवक की आंख, मुख्य आरोपी गिरफ्तार

बिहार News18 Bihar| August 30, 2018, 11:01 AM IST

सुपौल जिले के त्रिवेणीगंज थाना इलाके के खोरिया मिशन वार्ड नंबर पांच में आपसी विवाद के बाद एक व्यक्ति की आंख फोड़ दी गई. घायल को गंभीर हालत में त्रिवेणीगंज अनुमंडलीय अस्पताल ले जाया गया. वहां नाजुक स्थिति को देखते हुए स्थानीय डॉक्टरों ने उसे बेहतर इलाज के लिए बाहर रेफर कर दिया. घटना रविवार रात की है. जानकारी के मुताबिक घायल उपेंद्र मरीक और भूपेंद्र मरीक के बीच पूर्व से ही जमीन विवाद चल रहा था. इस विवाद को लेकर कई बार मारपीट की घटना हो चुकी है. परिजनों का आरोप है कि भूपेंद्र ने मचान पर सोये उपेंद्र को अकेला पाकर उसकी आंखे फोड़ दी. सुबह जब आसपास के लोगों ने बेहोशी की हालत में उपेंद्र को देखा तो इसकी सूचना घरवालों को दी. आनन फानन में परिजन उसे हॉस्पिटल लेकर गए. इलाज के लिए सहरसा गए उपेंद्र की नाजुक स्थिति देखकर डॉक्टरों ने उसे नेपाल के लिए रेफर कर दिया ताकि वहां आंखों के विशेषज्ञ डॉक्टरों से इलाज कराया जा सके. घटना के बाद घायल के परिजनों ने इसकी सूचना त्रिवेणीगंज पुलिस को बुधवार को दी. घटना के मुख्य नामजद आरोपी भूपेंद्र मरीक को त्रिवेणीगंज थाना परिसर में रपट लिखाने के दौरान ही पहुंचने पर हिरासत में ले लिया गया. परिजनों का आरोप है कि पहले भी भूपेंद्र ने उपेंद्र की अंगुली धारदार हथियार से काट दी थी. इस मामले में कुल छह लोगों को आरोपी बनाया गया है. घायल उपेंद्र की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है. थानाध्यक्ष राजेश्वर सिंह ने बताया कि उपेंद्र मरीक के पुत्र द्वारा आवेदन दिया गया है. मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस ने मुख्य भूपेंद्र मरिक को जेल भेज दिया है. ( अभिषेक मिश्रा की रिपोर्ट)

news18 hindi
First published: August 29, 2018, 2:34 PM IST

सुपौल जिले के त्रिवेणीगंज थाना इलाके के खोरिया मिशन वार्ड नंबर पांच में आपसी विवाद के बाद एक व्यक्ति की आंख फोड़ दी गई. घायल को गंभीर हालत में त्रिवेणीगंज अनुमंडलीय अस्पताल ले जाया गया. वहां नाजुक स्थिति को देखते हुए स्थानीय डॉक्टरों ने उसे बेहतर इलाज के लिए बाहर रेफर कर दिया. घटना रविवार रात की है. जानकारी के मुताबिक घायल उपेंद्र मरीक और भूपेंद्र मरीक के बीच पूर्व से ही जमीन विवाद चल रहा था. इस विवाद को लेकर कई बार मारपीट की घटना हो चुकी है. परिजनों का आरोप है कि भूपेंद्र ने मचान पर सोये उपेंद्र को अकेला पाकर उसकी आंखे फोड़ दी. सुबह जब आसपास के लोगों ने बेहोशी की हालत में उपेंद्र को देखा तो इसकी सूचना घरवालों को दी. आनन फानन में परिजन उसे हॉस्पिटल लेकर गए. इलाज के लिए सहरसा गए उपेंद्र की नाजुक स्थिति देखकर डॉक्टरों ने उसे नेपाल के लिए रेफर कर दिया ताकि वहां आंखों के विशेषज्ञ डॉक्टरों से इलाज कराया जा सके. घटना के बाद घायल के परिजनों ने इसकी सूचना त्रिवेणीगंज पुलिस को बुधवार को दी. घटना के मुख्य नामजद आरोपी भूपेंद्र मरीक को त्रिवेणीगंज थाना परिसर में रपट लिखाने के दौरान ही पहुंचने पर हिरासत में ले लिया गया. परिजनों का आरोप है कि पहले भी भूपेंद्र ने उपेंद्र की अंगुली धारदार हथियार से काट दी थी. इस मामले में कुल छह लोगों को आरोपी बनाया गया है. घायल उपेंद्र की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है. थानाध्यक्ष राजेश्वर सिंह ने बताया कि उपेंद्र मरीक के पुत्र द्वारा आवेदन दिया गया है. मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस ने मुख्य भूपेंद्र मरिक को जेल भेज दिया है. ( अभिषेक मिश्रा की रिपोर्ट)

Latest Live TV