होम » वीडियो » मनी » पैसा बनाओ

सासाराम: चमकी बुखार से मौत का पहला मामला, 7 वर्षीय सन्नी हुआ शिकार

कैमूर11:11 PM IST Jun 25, 2019

बिहार के सासाराम में 'चमकी बुखार' या एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) से मौत का पहला मामला सामने आया है. मामला जिले के नौहट्टा इलाके का है. जहां 7 वर्षीय बालक सन्नी की मौत अचानक आए बुखार के बाद हो गई. दरअसल नौहट्टा के राम लखन चेरों के 7 वर्षीय पुत्र सन्नी को अचानक सिर में तेज बुखार आया और बेचैनी बढ़ गई. उसके बाद उसे स्थानीय अस्पताल में ले जाया गया. जहां से उसे जिला मुख्यालय के सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया. सदर अस्पताल में इलाज के दौरान ही बच्चे की मौत हो गई. उधर जिला प्रशासन द्वारा चमकी बीमारी से मौत की आशंका को लेकर बच्चे का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. पूरा मामला पोस्टमार्टम के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा. उधर पुलिस ने 'मृत्यु समीक्षा रिपोर्ट' में 'चमकी बुखार' से मृत्यु होने की आशंका व्यक्त की है.

news18 hindi

बिहार के सासाराम में 'चमकी बुखार' या एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) से मौत का पहला मामला सामने आया है. मामला जिले के नौहट्टा इलाके का है. जहां 7 वर्षीय बालक सन्नी की मौत अचानक आए बुखार के बाद हो गई. दरअसल नौहट्टा के राम लखन चेरों के 7 वर्षीय पुत्र सन्नी को अचानक सिर में तेज बुखार आया और बेचैनी बढ़ गई. उसके बाद उसे स्थानीय अस्पताल में ले जाया गया. जहां से उसे जिला मुख्यालय के सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया. सदर अस्पताल में इलाज के दौरान ही बच्चे की मौत हो गई. उधर जिला प्रशासन द्वारा चमकी बीमारी से मौत की आशंका को लेकर बच्चे का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. पूरा मामला पोस्टमार्टम के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा. उधर पुलिस ने 'मृत्यु समीक्षा रिपोर्ट' में 'चमकी बुखार' से मृत्यु होने की आशंका व्यक्त की है.

Latest Live TV