लाइव टीवी
होम » वीडियो » छत्तीसगढ़

VIDEO : इसे कचरा नहीं कहिए ये तो सोना है इनके लिए

छत्तीसगढ़ ETV Rajasthan| October 10, 2017, 3:00 PM IST

बलौदा बाज़ार में 32 महिलाएं सुबह होते ही रिक्शा लेकर निकल पड़ती हैं. घर-घार जाती हैं और कचरा इकट्ठा करती हैं. सूखा-गीला कचरा अलग करके उसे रिसाईक्लिंग स्टेशन भेजती हैं. और फिर घरों से निकलने वाले इस कचरे से जैविक खाद बनायी जाती है. बदले में इन्हें हर महीने 5 हज़ार रुपए मिलते हैं और मानदेय राशि अलग से. नगर पालिका ने इन महिलाओं को आत्मनिर्भर बना दिया है. ज़िले की 7 और नगर पंचायतों में महिलाओं के ऐसे ही समूह बनाने की तैयारी है.

Narendra Sharma
First published: October 10, 2017, 3:00 PM IST

बलौदा बाज़ार में 32 महिलाएं सुबह होते ही रिक्शा लेकर निकल पड़ती हैं. घर-घार जाती हैं और कचरा इकट्ठा करती हैं. सूखा-गीला कचरा अलग करके उसे रिसाईक्लिंग स्टेशन भेजती हैं. और फिर घरों से निकलने वाले इस कचरे से जैविक खाद बनायी जाती है. बदले में इन्हें हर महीने 5 हज़ार रुपए मिलते हैं और मानदेय राशि अलग से. नगर पालिका ने इन महिलाओं को आत्मनिर्भर बना दिया है. ज़िले की 7 और नगर पंचायतों में महिलाओं के ऐसे ही समूह बनाने की तैयारी है.

Latest Live TV