लाइव टीवी
होम » वीडियो » छत्तीसगढ़

नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा में महिलाएं चला रहीं हैं ई-रिक्शा

छत्तीसगढ़ News18 Chhattisgarh| March 8, 2019, 6:20 PM IST

छत्तीसगढ़ के दक्षिण बस्तर का जिला दंतेवाड़ा घोर नक्सलवाद के नाम से जाना जाता है. प्रशासन की मजबूत ईच्छाशक्ति ने यहां की महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए बड़ी पहल की है. नगर में आदिवासी महिलाओं को सड़क पर पायलेट के रूप में साफ देखा जा सकता है. नगर ही नहीं, अंदरूनी इलाकों में जहां नक्सलियों की सीटी बजती थी. आज ये महिलाएं सवारी के लिए सीटी बजा रही हैं. इन तस्वीरों की झलकियां पीएम मोदी तक पहुंच चुकी है. अपने मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दंतेवाड़ा की सशक्त हो रही महिलाओं की सराहना भी की है. घनघोर जंगलों के बीच माओवाद प्रभावित इलाकों में ई रिक्शा का चलना और ड्राइवर के रूप में बैठी महिला का सवारी के लिए सीटी बजाना मेट्रो सिटी का एहसास दिलाता है.

news18 hindi
First published: March 8, 2019, 6:20 PM IST

छत्तीसगढ़ के दक्षिण बस्तर का जिला दंतेवाड़ा घोर नक्सलवाद के नाम से जाना जाता है. प्रशासन की मजबूत ईच्छाशक्ति ने यहां की महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए बड़ी पहल की है. नगर में आदिवासी महिलाओं को सड़क पर पायलेट के रूप में साफ देखा जा सकता है. नगर ही नहीं, अंदरूनी इलाकों में जहां नक्सलियों की सीटी बजती थी. आज ये महिलाएं सवारी के लिए सीटी बजा रही हैं. इन तस्वीरों की झलकियां पीएम मोदी तक पहुंच चुकी है. अपने मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दंतेवाड़ा की सशक्त हो रही महिलाओं की सराहना भी की है. घनघोर जंगलों के बीच माओवाद प्रभावित इलाकों में ई रिक्शा का चलना और ड्राइवर के रूप में बैठी महिला का सवारी के लिए सीटी बजाना मेट्रो सिटी का एहसास दिलाता है.

Latest Live TV