लाइव टीवी
होम » वीडियो » छत्तीसगढ़

VIDEO: यहां रेत पर अपने-आप लुढ़कने लगते हैं श्रद्धालु, पूर्ण होती है हर मनोकामना

गरियाबंद News18 Chhattisgarh| January 15, 2019, 6:30 PM IST

गरियाबंद में सात छोटी-बड़ी नदियों के संगम स्थल हथखोज में मकर संक्रांति के दिन हर साल की तरह इस साल भी श्रद्धा और आस्था का मेला संपन्न हुआ. इस दौरान मेले में दूर-दूर से लोग पहुंचे. श्रद्धालुओं की मानें तो अगर कोई संगम की रेत में शिवलिंग बनाकर शक्ति माता लहरी का ध्‍यान करता है, तो वह अपने आप ही रेत पर लुढ़कने लगता है. श्रद्धालुओं के इस तरह लुढ़कने का ये सिलसिला करीब 40 वर्षों से चला आ रहा है. गांव के बुजुर्गों की मानें तो सबसे पहले हथखोज गांव के जेठूराम ने शक्ति माता लहरी मंदिर के सामने नदी की रेत में लुढ़ककर पुत्र की प्राप्ति की कामना की थी. उनकी मनोकामना पूरी होने के बाद दूसरे लोगों ने भी हर साल मकर संक्रांति के दिन ऐसा करना शुरू कर दिया.

Krishna Kumar Saini
First published: January 15, 2019, 2:08 PM IST

गरियाबंद में सात छोटी-बड़ी नदियों के संगम स्थल हथखोज में मकर संक्रांति के दिन हर साल की तरह इस साल भी श्रद्धा और आस्था का मेला संपन्न हुआ. इस दौरान मेले में दूर-दूर से लोग पहुंचे. श्रद्धालुओं की मानें तो अगर कोई संगम की रेत में शिवलिंग बनाकर शक्ति माता लहरी का ध्‍यान करता है, तो वह अपने आप ही रेत पर लुढ़कने लगता है. श्रद्धालुओं के इस तरह लुढ़कने का ये सिलसिला करीब 40 वर्षों से चला आ रहा है. गांव के बुजुर्गों की मानें तो सबसे पहले हथखोज गांव के जेठूराम ने शक्ति माता लहरी मंदिर के सामने नदी की रेत में लुढ़ककर पुत्र की प्राप्ति की कामना की थी. उनकी मनोकामना पूरी होने के बाद दूसरे लोगों ने भी हर साल मकर संक्रांति के दिन ऐसा करना शुरू कर दिया.

Latest Live TV