अपना शहर चुनें

States

होम » वीडियो » छत्तीसगढ़

VIDEO: रक्षाबंधन के दूसरे दिन धूमधाम से मनाया गया 'भोजली पर्व'

कवर्धा News18 Chhattisgarh| August 28, 2018, 2:50 PM IST

छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले में बीते सोमवार को प्रदेश का परम्परागत त्योहार भोजली बड़े ही धूमधाम से मनाया गया. बता दें कि छत्तीसगढ़ में रक्षाबंधन के दूसरे दिन मनाए जाने वाले इस त्योहार को प्रदेश का मित्रता दिवस भी कहते हैं. राजमहल में भोजली पर्व को लेकर विशेष आयोजन किया जाता है. नगर की महिलाएं सिर में भोजली रखकर राजमहल पहुंचती हैं, जहां पर पूर्व राजपरिवार के सदस्य भोजली की पूरे विधि विधान के साथ पूजा अर्चना करती हैं. इसके बाद महल के पास बने भोजली तालाब में इसे विसर्जन कर दिया जाता है. महल में भोजली पर्व मनाने की परम्परा सन् 1730 से चली आ रही है, जो आज भी कायम है. कवर्धा राजपरिवार की पूर्व महारानी कृतिदेवी सिंह, अपने बेटे राजकुमार मैखलेश्वराज सिंह के साथ महल परिसर में मौजूद रहती हैं, जो आने वाले लोगों से मुलाकात करती हैं और उनका अभिवादन स्वीकार करती हैं. इसे देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहते हैं.

Manas Mishra
First published: August 28, 2018, 2:50 PM IST
Latest Live TV

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज