होम » वीडियो » छत्तीसगढ़

VIDEO: इन सीटों पर चुनावी मैदान में किन्नर भी ठोंक रहे हैं ताल

सूरजपुर News18 Chhattisgarh| October 31, 2018, 1:27 PM IST

छत्तीसगढ़ के अनूपपुर और रायगढ़ में मिली सफलता से उत्साहित किन्नरों ने अब अंबिकापुर, बिलासपुर और कोरबा में अपने प्रत्याशी खड़ा करने के बाद सूरजपुर जिले की प्रेमनगर विधानसभा सीट में भी किन्नरों ने अपना उम्मीदवार उतारने का निर्णय लिया है. इसी क्रम में सूरजपुर के देवनगर निवासी विद्या मौसी (किन्नर) ने अपने समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचकर नामाकंन पत्र खरीदा है. बेबाक विद्या मौसी ने प्रेमनगर सीट पर ताल ठोंकते हुए कहा कि घर-घर बधाई बांटने वाली किन्नरों की फौज अब हर घर जाकर लोगों से वोट मांगेगी. मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि "हम किन्नर हैं, हर घर के सुख-दुख से वाकिफ हैं. हम विधायक बनकर हर एक की समस्या का समाधान करेंगे." बता दें कि छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के लिए प्रदेश के 19 जिलों की 72 विधानसभा सीटों के लिए बीते 26 अक्टूबर से नामांकन शुरू हो गया है. 2 नवंबर तक नामांकन पत्र भरे जाएंगे. 3 नवंबर को नामांकन पत्रों की स्क्रूटनी होगी और 5 नवंबर तक नाम वापसी की अंतिम तारीख है. दूसरे चरण के लिए 20 नवंबर को मतदान होगा.

Varun Rai
First published: October 31, 2018, 1:27 PM IST
Latest Live TV

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज