लाइव टीवी
होम » वीडियो » रीजनल शो

VIDEO: उपेंद्र कुशवाहा की ये कैसी सियासत

प्राइम डिबेट News18 Bihar| November 1, 2018, 10:33 PM IST

बिहार में सीट शेयरिंग को लेकर राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) नेता उपेंद्र कुशवाहा की ओर से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) और महागठबंधन से की जा रही मोल-तोल पर चर्चा तेज हो गई है. एनडीए में दावे सब कुछ ठीक-ठाक होने के किए जा रहे हैं लेकिन इशारों से साफ है कि कुशवाहा दो नावों की सवारी कर रहे हैं और पत्ते आखिरी वक्त पर खोलेंगे. इसी मुद्दे पर देखिए आज का प्राइम डिबेट. इस डिबेट में भाग ले रहे हैं- बीजेपी नेता प्रेमरंजन पटेल, जेडीयू अजय आलोक, आरएलएसपी नेता अभ्यानंद सुमन और आरजेडी नेता मृत्युंजय तिवारी

News18 Hindi
First published: November 1, 2018, 10:31 PM IST

बिहार में सीट शेयरिंग को लेकर राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) नेता उपेंद्र कुशवाहा की ओर से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) और महागठबंधन से की जा रही मोल-तोल पर चर्चा तेज हो गई है. एनडीए में दावे सब कुछ ठीक-ठाक होने के किए जा रहे हैं लेकिन इशारों से साफ है कि कुशवाहा दो नावों की सवारी कर रहे हैं और पत्ते आखिरी वक्त पर खोलेंगे. इसी मुद्दे पर देखिए आज का प्राइम डिबेट. इस डिबेट में भाग ले रहे हैं- बीजेपी नेता प्रेमरंजन पटेल, जेडीयू अजय आलोक, आरएलएसपी नेता अभ्यानंद सुमन और आरजेडी नेता मृत्युंजय तिवारी

बिहार में सीट शेयरिंग को लेकर राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) नेता उपेंद्र कुशवाहा की ओर से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) और महागठबंधन से की जा रही मोल-तोल पर चर्चा तेज हो गई है. एनडीए में दावे सब कुछ ठीक-ठाक होने के किए जा रहे हैं लेकिन इशारों से साफ है कि कुशवाहा दो नावों की सवारी कर रहे हैं और पत्ते आखिरी वक्त पर खोलेंगे. इसी मुद्दे पर देखिए आज का प्राइम डिबेट. इस डिबेट में भाग ले रहे हैं- बीजेपी नेता प्रेमरंजन पटेल, जेडीयू अजय आलोक, आरएलएसपी नेता अभ्यानंद सुमन और आरजेडी नेता मृत्युंजय तिवारी

Latest Live TV

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

आप अपनी भावनाओं पर क़ाबू रखने में दिक़्क़त महसूस करेंगे – आपका अजीब रवैया लोगों को भ्रमित करेगा और इसलिए आपमे झुंझलाहट पैदा करेगा। अगर आप लम्बे वक़्त के लिए निवेश करें, तो अच्छा-ख़ासा फ़ायदा हासिल कर सकते हैं। रिश्तेदार आपके दुःख में भागीदार बनेंगे। अपनी परेशानियाँ उनसे बांटने में हिचकिचाएँ नहीं। निश्चित तौर पर आप उन्हें हल करने में सफल रहेंगे। अपने प्रिय की बातों के प्रति आप ज़रूरत से ज़्यादा संवेदनशील रहेंगे- आपको अपने जज़्बात पर क़ाबू रखने की ज़रूरत है और ऐसा कुछ करने से बचें जो मामले को और भी बिगाड़ दे। हालाँकि वरिष्ठों से कुछ विरोध के स्वर सुनाई देंगे- लेकिन फिर भी आपको दिमाग़ ठण्डा रखने की ज़रूरत है। ऐसे लोगों से जुड़ने से बचें जो आपकी प्रतिष्ठा को आघात पहुँचा सकते हैं। अगर आप अपने जीवनसाथी को लंबे समय तक कोई सरप्राइज़ नहीं देते हैं, तो आप परेशानियों को न्यौता दे रहे हैं। भविष्य की चिंता से अधिक चिंतन की आवश्यकता होती है, इसलिए बेवजह चिंता करने की बजाय आप कोई रचनात्मक योजना बना सकते हैं। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
corona virus btn
corona virus btn
Loading