होम » वीडियो

VIDEO : इसे आस्था कहें या अंधविश्वास...खून तो इंसान का बहता है

उज्जैन02:13 PM IST Nov 08, 2018

उज्जैन के भीडावद गांव में गोवर्धन पूजा के दिन एक अजब परंपरा है. लोग खुशी-खुशी गायों के पैरों से खुद को रुंदवाते हैं. ऐसा वो मन्नत मानने और फिर उसके पूरा होने पर करते हैं. दर्जनों लोग सड़क पर लेट जाते हैं और फिर गांवभर की गाय एक साथ उन पर छोड़ दी जाती हैं. गाय इन लोगों को रौंदते हुए उनके ऊपर से गुज़र जाती हैं. गांव के लोग सूरज निकलने से पहले ही उठ जाते हैं और फिर गायों को नहलाकर उन्हें सजाया जाता है. फिर मन्नत मांगने वाले लोगों का जुलुस पूरे गांव में निकाला जाता है. ये लोग दीवाली के 5 दिन पहले से घर छोड़कर मंदिर में रहते हैं.

Anand Nigam

उज्जैन के भीडावद गांव में गोवर्धन पूजा के दिन एक अजब परंपरा है. लोग खुशी-खुशी गायों के पैरों से खुद को रुंदवाते हैं. ऐसा वो मन्नत मानने और फिर उसके पूरा होने पर करते हैं. दर्जनों लोग सड़क पर लेट जाते हैं और फिर गांवभर की गाय एक साथ उन पर छोड़ दी जाती हैं. गाय इन लोगों को रौंदते हुए उनके ऊपर से गुज़र जाती हैं. गांव के लोग सूरज निकलने से पहले ही उठ जाते हैं और फिर गायों को नहलाकर उन्हें सजाया जाता है. फिर मन्नत मांगने वाले लोगों का जुलुस पूरे गांव में निकाला जाता है. ये लोग दीवाली के 5 दिन पहले से घर छोड़कर मंदिर में रहते हैं.

Latest Live TV