होम » वीडियो » हरियाणा

VIDEO: धर्मनगरी कुरुक्षेत्र में निकली भगवान भोले शंकर की शोभा यात्रा

कुरुक्षेत्र News18 Haryana| March 2, 2019, 8:50 PM IST

धर्मनगरी कुरुक्षेत्र के लोगों एवं शिव भक्तों के लिए शिवरात्रि विशेष पर्व है. कुरुक्षेत्र में पहली बार नगर की विभिन्न धार्मिक एवं सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से उज्जैन की तर्ज पर पहली बार भोले शंकर की बारात निकाली गई. इस भोले शंकर की बारात में हजारों की संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए. शिवरात्रि सेवा मण्डल आयोजन कमेटी के सदस्य मनोज परुथी ने बताया कि नगर की विभिन्न धार्मिक एवं सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से शिवरात्रि के पावन अवसर पर भोले शंकर की शोभा यात्रा निकाली गई. उज्जैन की शोभा यात्रा में तो ऐसा माना जाता है कि सभी देवी देवता भी धरती लोक पर आकर भोले शंकर की बारात में शामिल होते हैं. कुरुक्षेत्र की भगवान शंकर की बारात में भोले नाथ की झांकियां, पंजाब से आए कलाकारों ने नगर के विभिन्न स्थानों पर शोभा यात्रा के मार्ग पर रंगोली बनाई. अनेकों पंजाबी ढोल, नासिक ढोल, शहनाई वादन, भोले नाथ बैग पाईपर बैण्ड, शिव तांडव अघोरियों के संग, जंघम यात्रा, भोले नाथ का विवाह, भोलेनाथ की पालकी, भगवान शिव भक्तों द्वारा 11 ढोल नगाड़े, 11 मृदंग, 11 डमरू तथा 11 शंखनाद, 11 ब्राह्मणों द्वारा मंत्रोच्चारण इत्यादि विशेष आकर्षण का केन्द्र रहे.

Ashok Yadav
First published: March 2, 2019, 8:50 PM IST
Latest Live TV

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज