होम » वीडियो » हिमाचल प्रदेश

VIDEO: केलांग के मनोहारी शाशुर गोन्पा में पर्यटकों की बढ़ी आमद

केलांगJune 17, 2019, 7:29 PM IST

लाहौल घाटी के प्रचीन व प्रसिद्ध बौद्ध मठ में इन दिनों सैलानियों की आमद में दिन प्रतिदिन बढ़ोतरी हो रही है. करीब चार सौ साल पुराने इस बौद्ध मठ में बौद्ध धर्म से संबंध रखने वाले पवित्र ग्रंथों के साथ साथ नायाब मूर्ति और दीवार चित्र अंकित हैं जो गोन्पा में आने वाले लोगों को अनायास ही अपनी ओर खींच लेते हैं. ऐसा माना जाता है कि इनमें से ज्यादातर चीजें प्रचीन काल में तिब्बत से लाई गई थीं, जो बेहद दुर्लभ हैं. शाशुर गोन्पा को इलाके के सबसे बड़े गोन्पाओं में से एक माना जाता है. यह गोन्पा सम्प्रदाय से संबंध रखता है जिनके मुखिया ज्ञालवांग डुपचेन रिनपोछे हैं. देवदार के पेड़ के बीच में बने यह गोन्पा जिला मुख्यालय केलांग से करीब पांच किलोमीटर की दूरी पर है. अगर केलांग मुख्यालस से यहां पैदल पहुंचना चाहें तो यह करीब तीन किलोमीटर की दूरी पर है.

news18 hindi

लाहौल घाटी के प्रचीन व प्रसिद्ध बौद्ध मठ में इन दिनों सैलानियों की आमद में दिन प्रतिदिन बढ़ोतरी हो रही है. करीब चार सौ साल पुराने इस बौद्ध मठ में बौद्ध धर्म से संबंध रखने वाले पवित्र ग्रंथों के साथ साथ नायाब मूर्ति और दीवार चित्र अंकित हैं जो गोन्पा में आने वाले लोगों को अनायास ही अपनी ओर खींच लेते हैं. ऐसा माना जाता है कि इनमें से ज्यादातर चीजें प्रचीन काल में तिब्बत से लाई गई थीं, जो बेहद दुर्लभ हैं. शाशुर गोन्पा को इलाके के सबसे बड़े गोन्पाओं में से एक माना जाता है. यह गोन्पा सम्प्रदाय से संबंध रखता है जिनके मुखिया ज्ञालवांग डुपचेन रिनपोछे हैं. देवदार के पेड़ के बीच में बने यह गोन्पा जिला मुख्यालय केलांग से करीब पांच किलोमीटर की दूरी पर है. अगर केलांग मुख्यालस से यहां पैदल पहुंचना चाहें तो यह करीब तीन किलोमीटर की दूरी पर है.

Latest Live TV