होम » वीडियो » हिमाचल प्रदेश

VIDEO: ओलावृष्टि ने बढ़ाई सेब बागवानों की चिंता, इन जिलों में हुआ ज्यादा नुकसान

शिमला News18 Himachal Pradesh| April 23, 2019, 6:11 PM IST

हिमाचल प्रदेश में दो दिन पहले हुई ओलावृष्टि ने सेब बागवानों की चिंता बढ़ा दी है. शिमला, कुल्लू और मंडी के बागवानों को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है. राज्य के अधिकतर इलाकों में फ्लावरिंग पीक प्वाइंट पर है और कम उंचाई वाले इलाकों में सेब की सेटिंग लगभग हो गई है. ऐसा नजर आ रहा था कि इस बार बंपर फसल होगी लेकिन मौसम ने बागवानों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है. भारी ओलावृष्टि से करोड़ों के नुकसान की आशंका जताई जा रही है. अपर शिमला के कुछ इलाकों में करीब 25 मिनट तक लगातार ओले गिरे. कई स्थानों पर हेल नेट तक टूट गए हैं. इस बाबतकिसान संघर्ष समिति ने सरकार से यह मांग की है कि ओलावृष्टि को मौसम आधारित बीमा में आपदा के रूप में शामिल किया जाए ताकि बागवानों को उचित मुआवजा मिल सके. इस बाबत माकपा विधायक राकेश सिंघा ने भी मुख्य सचिव को पत्र लिखा है.

Ranbir Singh
First published: April 23, 2019, 6:11 PM IST

हिमाचल प्रदेश में दो दिन पहले हुई ओलावृष्टि ने सेब बागवानों की चिंता बढ़ा दी है. शिमला, कुल्लू और मंडी के बागवानों को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है. राज्य के अधिकतर इलाकों में फ्लावरिंग पीक प्वाइंट पर है और कम उंचाई वाले इलाकों में सेब की सेटिंग लगभग हो गई है. ऐसा नजर आ रहा था कि इस बार बंपर फसल होगी लेकिन मौसम ने बागवानों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है. भारी ओलावृष्टि से करोड़ों के नुकसान की आशंका जताई जा रही है. अपर शिमला के कुछ इलाकों में करीब 25 मिनट तक लगातार ओले गिरे. कई स्थानों पर हेल नेट तक टूट गए हैं. इस बाबतकिसान संघर्ष समिति ने सरकार से यह मांग की है कि ओलावृष्टि को मौसम आधारित बीमा में आपदा के रूप में शामिल किया जाए ताकि बागवानों को उचित मुआवजा मिल सके. इस बाबत माकपा विधायक राकेश सिंघा ने भी मुख्य सचिव को पत्र लिखा है.

Latest Live TV