होम » वीडियो » झारखंड

VIDEO: पुलिस वाहन कर्मी की संदिग्ध परिस्थिति में मौत पर परिजनों का हंगामा

गोड्डा09:26 PM IST Sep 25, 2018

गोड्डा जिले के पोडैयाहाट थाना क्षेत्र में डांडे मोड़ के निकट एक पुलिस के निजी वाहन चालक की संदेहास्पद स्थिति में मौत हो गई.चालक राजीव की मौत के बाद उनके परिजनों ने जमकर बवाल काटा.शव को थाना परिसर से जबरदस्ती निकालकर गोड्डा देवघर मुख्य मार्ग एनएच-133 को तीन घंटों तक जाम कर दिया.परिजनों की मांग थी कि मुआवजा और नौकरी दिया जाए.मामला दरअसल संदेहास्पद इसलिए लग रहा क्योंकि परिजनों के अनुसार रात को ग्यारह बजे थाना प्रभारी ने चालक राजीव को फोन कर बुलाया था और उनके साथ तीन सिपाही एक अफसर के साथ लाल वारंटियों की तलाश में भेजा गया था.मगर जिस स्थान पर घटना घटी है उस स्थान पर कोई वारंटी था ही नहीं.लोगों से मिल रही जानकारी के अनुसार जिस वक्त घटना घटी वाहन के अन्दर चारों पुलिस कर्मी सोये हुए थे.परिजनों का यह आरोप है कि सभी पुलिसकर्मी और राजीव गश्ती में गए और उनकी हत्या कर दी गई जबकि मौके पर पहुंचे एसडीपीओ का कहना था कि वारंटियों की तलाश में गए थे और लौटने के क्रम में सड़क दुर्घटना में राजीव की मौत हो गई.सूत्रों की मानें तो यह दुर्घटना अवैध रूप से सड़क पर वसूली का मामला नजर आता है, अगर दुर्घटना में मौत हुई तो बाकी पुलिस कर्मियों को खरोंच तक क्यों नही आई ,या वाहन को क्षति क्यों नहीं पहुंची .फिलहाल सड़क जाम तुड़वाकर पुलिस द्वारा शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया.

news18 hindi

गोड्डा जिले के पोडैयाहाट थाना क्षेत्र में डांडे मोड़ के निकट एक पुलिस के निजी वाहन चालक की संदेहास्पद स्थिति में मौत हो गई.चालक राजीव की मौत के बाद उनके परिजनों ने जमकर बवाल काटा.शव को थाना परिसर से जबरदस्ती निकालकर गोड्डा देवघर मुख्य मार्ग एनएच-133 को तीन घंटों तक जाम कर दिया.परिजनों की मांग थी कि मुआवजा और नौकरी दिया जाए.मामला दरअसल संदेहास्पद इसलिए लग रहा क्योंकि परिजनों के अनुसार रात को ग्यारह बजे थाना प्रभारी ने चालक राजीव को फोन कर बुलाया था और उनके साथ तीन सिपाही एक अफसर के साथ लाल वारंटियों की तलाश में भेजा गया था.मगर जिस स्थान पर घटना घटी है उस स्थान पर कोई वारंटी था ही नहीं.लोगों से मिल रही जानकारी के अनुसार जिस वक्त घटना घटी वाहन के अन्दर चारों पुलिस कर्मी सोये हुए थे.परिजनों का यह आरोप है कि सभी पुलिसकर्मी और राजीव गश्ती में गए और उनकी हत्या कर दी गई जबकि मौके पर पहुंचे एसडीपीओ का कहना था कि वारंटियों की तलाश में गए थे और लौटने के क्रम में सड़क दुर्घटना में राजीव की मौत हो गई.सूत्रों की मानें तो यह दुर्घटना अवैध रूप से सड़क पर वसूली का मामला नजर आता है, अगर दुर्घटना में मौत हुई तो बाकी पुलिस कर्मियों को खरोंच तक क्यों नही आई ,या वाहन को क्षति क्यों नहीं पहुंची .फिलहाल सड़क जाम तुड़वाकर पुलिस द्वारा शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया.

Latest Live TV