लाइव टीवी
होम » वीडियो » झारखंड

VIDEO : जमीन अधिग्रहण का मुआवजा को लेकर ग्रामीणों ने किया रोड जाम

झारखंड News18 Jharkhand| October 31, 2018, 9:57 PM IST

हजारीबाग में विकास योजनाओं को धरातल पर उतारने के लिए कई जगहों पर जमीन अधिग्रहण किए जा रहे हैं. लिहाजा जमीन अधिग्रहण के बाद ग्रामीण अपना मुआवजा उचित चाहते हैं. इसको लेकर ज्यादातर आंदोलन होते रहते हैं. एक बार फिर हजारीबाग शहर के पास से गुजरने वाला रिंग रोड के निर्माण के लिए भूमि अधिग्रहण किया जा रहा है और इसको लेकर जो मुआवजा दी जा रही है वह ग्रामीणों को नागवार गुजर रहा है. ऐसे में ग्रामीण अपनी मांगों को रखने के लिए जिला प्रशासन से लेकर तमाम जगहों पर फरियाद लगा रहे हैं. मांगों पर कोई विचार नहीं होने पर ग्रामीण उग्र भी हो रहे हैं. इसी कड़ी में बुधवार को कटकमदाग प्रखंड के रेवाली गांव में ग्रामीण रिंग रोड के मुआवजा की बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर सड़क पर बैठ गए जिससे काफी लंबा जाम लग गया. घटना की जानकारी मिलते ही प्रखंड के बीडीओ, सीओ और थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को उनकी मांगों को उच्च स्तर तक पहुंचाने का आश्वासन दिया जिसके बाद जाम हटा लिया गया. लेकिन जिस प्रकार से ग्रामीण मुआवजा को लेकर आंदोलन के मूड में दिख रहे हैं उससे लगता है कि अगर सही मुआवजा भुगतान कर जमीन अधिग्रहण नहीं किया गया तो आंदोलन उग्र हो सकता है.

Rakesh Kumar
First published: October 31, 2018, 9:57 PM IST

हजारीबाग में विकास योजनाओं को धरातल पर उतारने के लिए कई जगहों पर जमीन अधिग्रहण किए जा रहे हैं. लिहाजा जमीन अधिग्रहण के बाद ग्रामीण अपना मुआवजा उचित चाहते हैं. इसको लेकर ज्यादातर आंदोलन होते रहते हैं. एक बार फिर हजारीबाग शहर के पास से गुजरने वाला रिंग रोड के निर्माण के लिए भूमि अधिग्रहण किया जा रहा है और इसको लेकर जो मुआवजा दी जा रही है वह ग्रामीणों को नागवार गुजर रहा है. ऐसे में ग्रामीण अपनी मांगों को रखने के लिए जिला प्रशासन से लेकर तमाम जगहों पर फरियाद लगा रहे हैं. मांगों पर कोई विचार नहीं होने पर ग्रामीण उग्र भी हो रहे हैं. इसी कड़ी में बुधवार को कटकमदाग प्रखंड के रेवाली गांव में ग्रामीण रिंग रोड के मुआवजा की बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर सड़क पर बैठ गए जिससे काफी लंबा जाम लग गया. घटना की जानकारी मिलते ही प्रखंड के बीडीओ, सीओ और थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को उनकी मांगों को उच्च स्तर तक पहुंचाने का आश्वासन दिया जिसके बाद जाम हटा लिया गया. लेकिन जिस प्रकार से ग्रामीण मुआवजा को लेकर आंदोलन के मूड में दिख रहे हैं उससे लगता है कि अगर सही मुआवजा भुगतान कर जमीन अधिग्रहण नहीं किया गया तो आंदोलन उग्र हो सकता है.

Latest Live TV