VIDEO: स्वास्थ्य विभाग घर-घर जाकर टीबी के मरीजों को ढूंढेगा

झारखंड05:29 PM IST Sep 05, 2018

2025 तक देश को टीबी मुक्त बनाने की दिशा में सरकार ने कई कदम उठाए हैं. लोहरदगा जिला यक्ष्मा विभाग के स्वास्थ्य कर्मी डोर टू डोर जाकर संदिग्ध टीबी के मरीज के बलगम की जांच करेंगे ताकि टीबी रोग से पीड़ित लोगों का ससमय इलाज हो सके. दो सप्ताह से अधिक समय से खांसी होना, रात में पसीना आना, वजन में लगातार गिरावट होना, भूख न लगना, बुखार की शिकायत वाले लोगों से अनिवार्य रूप से स्वास्थ्य जांच कराने का आग्रह किया गया है. ऐसे लक्षण वाले व्यक्ति के टीबी से पीड़ित होने की आशंका जताई गई है. जिला यक्ष्मा विभाग के कर्मी आज 5 सितंबर से 19 सितंबर तक घर घर जाकर टीबी के संदिग्ध मरीजों की पहचान और उनके बलगम की जांच करेंगे.

Gautam Lenin

2025 तक देश को टीबी मुक्त बनाने की दिशा में सरकार ने कई कदम उठाए हैं. लोहरदगा जिला यक्ष्मा विभाग के स्वास्थ्य कर्मी डोर टू डोर जाकर संदिग्ध टीबी के मरीज के बलगम की जांच करेंगे ताकि टीबी रोग से पीड़ित लोगों का ससमय इलाज हो सके. दो सप्ताह से अधिक समय से खांसी होना, रात में पसीना आना, वजन में लगातार गिरावट होना, भूख न लगना, बुखार की शिकायत वाले लोगों से अनिवार्य रूप से स्वास्थ्य जांच कराने का आग्रह किया गया है. ऐसे लक्षण वाले व्यक्ति के टीबी से पीड़ित होने की आशंका जताई गई है. जिला यक्ष्मा विभाग के कर्मी आज 5 सितंबर से 19 सितंबर तक घर घर जाकर टीबी के संदिग्ध मरीजों की पहचान और उनके बलगम की जांच करेंगे.

Latest Live TV