होम » वीडियो » झारखंड

VIDEO : दुमका के ऐतिहासिक हिजला मेला में दिखी समृद्ध आदिवासी संस्कृति की झलक

झारखंड09:56 PM IST Feb 15, 2019

दुमका के ऐतिहासिक हिजला मेला का उदघाटन हिजला के ग्राम प्रधान सुनीराम हांसदा और डीसी मुकेश कुमार ने संयुक्त रूप से किया. मयूराक्षी नदी के तट पर हिजला मेला की शुरूआत 3 फरवरी 1890 को हुई थी. वर्ष 2015 में राज्य सरकार ने इसे राजकीय मेला का दर्जा दिया. एक सप्ताह तक लगने वाले इस मेला में समृद्ध आदिवासी संस्कृति की झलक देखने को मिलती है. सप्ताह भर तक विभिन्न प्रकार के खेलों का आयोजन होंगे. यहां बाहरी तथा भीतरी कला मंच पर प्रतिदिन सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन होते हैं. मेला परिसर में विभिन्न विभागों के स्टाल लगाए गए हैं, जिस पर सरकार की योजनाओं की जानकारी दी जाएगी. कृषि विभाग द्वारा लगायी गई प्रदर्शनी लोगों के आकर्षण का केंद्र बिंदु होता है. जिला मुख्यालय से 5 किलोमीटर दूर मयूराक्षी नदी के तट पर एक सप्ताह तक लगने वाले मेला को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. लोगों ने बड़ी संख्या में मेले में खरीदारी की और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आनंद लिया.

Pancham kumar jha

दुमका के ऐतिहासिक हिजला मेला का उदघाटन हिजला के ग्राम प्रधान सुनीराम हांसदा और डीसी मुकेश कुमार ने संयुक्त रूप से किया. मयूराक्षी नदी के तट पर हिजला मेला की शुरूआत 3 फरवरी 1890 को हुई थी. वर्ष 2015 में राज्य सरकार ने इसे राजकीय मेला का दर्जा दिया. एक सप्ताह तक लगने वाले इस मेला में समृद्ध आदिवासी संस्कृति की झलक देखने को मिलती है. सप्ताह भर तक विभिन्न प्रकार के खेलों का आयोजन होंगे. यहां बाहरी तथा भीतरी कला मंच पर प्रतिदिन सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन होते हैं. मेला परिसर में विभिन्न विभागों के स्टाल लगाए गए हैं, जिस पर सरकार की योजनाओं की जानकारी दी जाएगी. कृषि विभाग द्वारा लगायी गई प्रदर्शनी लोगों के आकर्षण का केंद्र बिंदु होता है. जिला मुख्यालय से 5 किलोमीटर दूर मयूराक्षी नदी के तट पर एक सप्ताह तक लगने वाले मेला को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. लोगों ने बड़ी संख्या में मेले में खरीदारी की और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आनंद लिया.

Latest Live TV