लाइव टीवी
होम » वीडियो » झारखंड

VIDEO : महिलाओं ने किया महेशपुर में शराब की दुकान खुलने का विरोध

झारखंड News18 Jharkhand| April 5, 2019, 7:07 PM IST

पाकुड़ के महेशपुर में शराब दुकान खोलने का महिलाओं ने जोरदार तरीके से शराब दुकान खोलने का विरोध शुरु कर दिया है. विरोध कर प्रदर्शन करते हुए महिलाए सड़क पर उतर आए हैं. महेशपुर के अम्बेडकर चौक में शराब दुकान खोलने का आसपास बसे मोहल्ले के महिलाओं ने उस समय विरोध किया, जब शराब दुकान के सामने ट्रक से शराब की पेटी उतारी जा रही थीं. उन्होंने महेशपुर-पाकुडिया पथ को जाम कर दिया. आवागमन बाधित हो गया. घटना की सुचना पाकर महेशपुर थाना प्रभारी घटना स्थल पर पहुंचे तो महिलाओं ने थाना प्रभारी का गाड़ी का चारों ओर से घेर लिया. घंटों महिलाओं ने महेशपुर थाना प्रभारी को घेरे रखा. थाना प्रभारी ने सिविल ड्रेस में महिलाओं को समझाने का प्रयास किया. थाना प्रभारी ने महिलाओं से कहा कि विरोध यहां करने से क्या होगा. शराब दुकान का लाईसेंस जहां से दिया गया है, वहां जाकर विरोध करें. उन्होंने रांची जाकर महिलाओं को विरोध करने और वरीय पदाधिकारियों से बात करने की सलाह दिया. महिलाए शराब दुकान नहीं खुलने देने की मांग पर अड़ी रहीं. महिलाओं का कहना था कि अम्बेडकर चौक में शराब दुकान खुलने से आसपास के इलाकों में शराबियों का अड्डा बन जाता है. शराब पीकर लोग महिलाओं पर फबतियां कसते हैं.इतना ही नहीं शराब पीकर घर लोग घर में अशांति करते है.

Kundan Kumar
First published: April 5, 2019, 7:07 PM IST

पाकुड़ के महेशपुर में शराब दुकान खोलने का महिलाओं ने जोरदार तरीके से शराब दुकान खोलने का विरोध शुरु कर दिया है. विरोध कर प्रदर्शन करते हुए महिलाए सड़क पर उतर आए हैं. महेशपुर के अम्बेडकर चौक में शराब दुकान खोलने का आसपास बसे मोहल्ले के महिलाओं ने उस समय विरोध किया, जब शराब दुकान के सामने ट्रक से शराब की पेटी उतारी जा रही थीं. उन्होंने महेशपुर-पाकुडिया पथ को जाम कर दिया. आवागमन बाधित हो गया. घटना की सुचना पाकर महेशपुर थाना प्रभारी घटना स्थल पर पहुंचे तो महिलाओं ने थाना प्रभारी का गाड़ी का चारों ओर से घेर लिया. घंटों महिलाओं ने महेशपुर थाना प्रभारी को घेरे रखा. थाना प्रभारी ने सिविल ड्रेस में महिलाओं को समझाने का प्रयास किया. थाना प्रभारी ने महिलाओं से कहा कि विरोध यहां करने से क्या होगा. शराब दुकान का लाईसेंस जहां से दिया गया है, वहां जाकर विरोध करें. उन्होंने रांची जाकर महिलाओं को विरोध करने और वरीय पदाधिकारियों से बात करने की सलाह दिया. महिलाए शराब दुकान नहीं खुलने देने की मांग पर अड़ी रहीं. महिलाओं का कहना था कि अम्बेडकर चौक में शराब दुकान खुलने से आसपास के इलाकों में शराबियों का अड्डा बन जाता है. शराब पीकर लोग महिलाओं पर फबतियां कसते हैं.इतना ही नहीं शराब पीकर घर लोग घर में अशांति करते है.

Latest Live TV