होम » वीडियो » झारखंड

VIDEO: देश सेवा की शपथ के साथ 233 आरक्षियों ने की शानदार पासिंग आउट परेड

झारखंड News18 Jharkhand| March 9, 2019, 5:02 PM IST

नव प्रशिक्षित 233 आरक्षियों ने आज देश सेवा का शपथ ली. इनमें 228 पुरूष व 5 महिला आरक्षी हैं. जैप वन ग्राउंड में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में नव आरक्षियों ने डीजीपी डीके पांडेय को सलामी दी और शानदार परेड प्रस्तुत किया. इस मौके पर जैप महानिदेशक समेत तमाम वरीय पुलिस पदाधिकारी भी उपस्थित थे. 128 हफ्ते की कठिन ट्रेनिंग के बाद नव आरक्षकों ने देश सेवा की शपथ ली. इनको प्रशिक्षण जैप वन के अलावा जंगलवार फेयर स्कूल और आर्मी के ट्रेनरों द्वारा भी दिया गया. जैप कमांडेट ने कहा कि इन आरक्षियों को बेहतर से बेहतर प्रशिक्षण दिया गया है. इसमें आतंकियों ,उग्रवादियों के साथ लड़ने के अलावा अत्याधुनिक हथियारों के परिचालन, तकनीकी उपकरणों के संचालन और खुफिया सूचनाओं को एकत्र करने की दक्षता भी शामिल है. डीजीपी ने नव आरक्षियों को देश सेवा की मौका मिलने पर बधाई देते हुए कहा कि प्रशिक्षण के दौरान मिली हर सीख को जमीन पर उतारने का समय आ गया है. डीजीपी ने नव आरक्षियों को बेहतर प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया वहीं उनके ट्रेनर को भी नकद पुरस्कार और प्रशस्ति-पत्र व प्रशंसा-पत्र देने की घोषणा की. डीजीपी ने साथ ही उनसे आतंकवाद, नक्सलवाद और अपराधियो के खिलाफ डट कर खड़े होने का आह्वान किया.

Manoj Kumar
First published: March 9, 2019, 5:02 PM IST

नव प्रशिक्षित 233 आरक्षियों ने आज देश सेवा का शपथ ली. इनमें 228 पुरूष व 5 महिला आरक्षी हैं. जैप वन ग्राउंड में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में नव आरक्षियों ने डीजीपी डीके पांडेय को सलामी दी और शानदार परेड प्रस्तुत किया. इस मौके पर जैप महानिदेशक समेत तमाम वरीय पुलिस पदाधिकारी भी उपस्थित थे. 128 हफ्ते की कठिन ट्रेनिंग के बाद नव आरक्षकों ने देश सेवा की शपथ ली. इनको प्रशिक्षण जैप वन के अलावा जंगलवार फेयर स्कूल और आर्मी के ट्रेनरों द्वारा भी दिया गया. जैप कमांडेट ने कहा कि इन आरक्षियों को बेहतर से बेहतर प्रशिक्षण दिया गया है. इसमें आतंकियों ,उग्रवादियों के साथ लड़ने के अलावा अत्याधुनिक हथियारों के परिचालन, तकनीकी उपकरणों के संचालन और खुफिया सूचनाओं को एकत्र करने की दक्षता भी शामिल है. डीजीपी ने नव आरक्षियों को देश सेवा की मौका मिलने पर बधाई देते हुए कहा कि प्रशिक्षण के दौरान मिली हर सीख को जमीन पर उतारने का समय आ गया है. डीजीपी ने नव आरक्षियों को बेहतर प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया वहीं उनके ट्रेनर को भी नकद पुरस्कार और प्रशस्ति-पत्र व प्रशंसा-पत्र देने की घोषणा की. डीजीपी ने साथ ही उनसे आतंकवाद, नक्सलवाद और अपराधियो के खिलाफ डट कर खड़े होने का आह्वान किया.

Latest Live TV