VIDEO : मोरहाबादी में आयोजित दीपावली मेले में पहुंची जमकर लोगों की भीड़

रांची News18 Jharkhand| October 27, 2018, 8:10 PM IST

हर साल की तरह इस साल भी मोरहाबादी मैदान में काफी बड़े स्तर पर झारखंड आइएएस ऑफिसर्स वाइफ्स एसोसिएशन द्वारा दीपावली मेले का आयोजन किया गया है. इस मेले की शुरूआत 2005 में की गई थी. इस बार इस मेले में 250 स्टॉल लगाए गए हैं. इस मेले में रांची के अलावा कोलकाता, मुंबई, हैदराबाद. कश्मीर, लखनऊ के अलावा देश भर से उद्यमि अपने अपने उत्पादों के स्टॉल लगाने यहां पहुंचे हैं. इस मेले में पहुंचे वाले लोग मेले में आकर बेहद उत्साहित नजर आ रहे हैं. यहां आने वाले लोगों की मानें तो बहुत कुछ अलग-अलग और यूनिक चीजें यहां मिल रही हैं जो आम तौर से बाजारों में नहीं मिलते. खासकर महिलाओं को यह सामान ज्यादा लुभा रहे हैं. मेले में दीपावली को लेकर एक से बढ़कर एक सामान उपलब्ध है. रंग-बिरंगे दियों वाली लाइट, लैंप, डेकोरेट इलेक्ट्रॉनिक लड़ियां के साथ यहां मिट्टी के दीयों से लेकर लखनऊ के चिनकारी कपड़े से लेकर साउथ सिल्क की साड़ियां मौजूद हैं. मेले में एनटिक्स मैटेरियल, पीलत, तांबा से बने बुलेट, साइकिल से कर फरारी तक मौजुद है.खासकर महिलाओं को यहां के आइटम ज्यादा लुभा रहे हैं क्योंकि इस मेले में महिलाओं के लिए की आइटम के मौजूद है. हैंडिक्रॉफ्ट्स सामानों के लिए मुफ्त स्टाल लगाए गए.

Amita
First published: October 27, 2018, 8:10 PM IST
Latest Live TV

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज