KADAK
  • April 14, 2021, 10:46 PM IST
  • KADAK
fb fb

आस्था पर भारी कोरोना संकट, 155 साल पहले भी सोशल डिस्टेंसिंग से हुआ था Kumbh Mela, जानिए वजह | KADAK

कुंभ (Kumbh) की भीड़ सुपर स्प्रेडर साबित हो सकती है. इसकी आशंका इसलिए भी है, क्योंकि पिछले कुछ दिनों में हरिद्वार (Haridwar) में संक्रमितों की संख्या बढ़ गई है. इस बार प्रशासन की चिंता बढ़ गई है. लेकिन 155 साल पहले 1866 में हुए कुंभ के दौरान पहली बार सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया गया था. तब जब अस्था को लेकर सवाल पूछे जाने लगे तो ब्रिटिश सरकार को बैकफुट पर आना पड़ा और कुंभ मेले को महामारी के साये के बीच संपन्न कराया गया.Kumbh Mela in Haridwar is once again being held in the time of a health emergency. The festival attracts the largest human gathering in the world. This year’s Kumbh festival is again being held in similar circumstances like in the 19th century and, to some extent, in early years of 20th century in northern India when epidemics like cholera and plague were the main deterrents for the authorities. Haridwar and Allahabad held Kumbh Mela at a 12-year interval and Ardh Kumbh festivals at a six-year interval.देखिये लोकल खबरें, लोकल अंदाज़ में सिर्फ KADAK NEWS Channel परKADAK is an Indian Hindi news channel which provides local as well as national news 24*7 with detailed news coverage. KADAK also covers Local regional stories, Entertainment News, Political News, Election News, Sports News, Cricket and Lifestyle Updates.#KADAKFollow us:Facebook:http://bit.ly/2lRMjaYWebsite: https://hindi.news18.com/Twitter: https://twitter.com/HindiNews18

और भी देखे

News18 Virals: Bihar

और भी देखें

News18 Virals: Rajasthan

और भी देखें

KADAK MONEY

और भी देखें

West Bengal Assembly Polls 2021

और भी देखें