2500 साल पहले भारत में हुई प्लास्टिक सर्जरी की शुरुआत

नॉलेजJanuary 16, 2019, 10:44 PM IST

अगर आप मानते हैं कि प्लास्टिक सर्जरी और नाक-होंठों को आकार देना मॉर्डन युग और पश्चिमी देशों की देन है तो आप गलत हैं. इसकी शुरुआत आज से लगभग 2500 साल पहले भारत से हो चुकी थी. प्राचीन भारतीय चिकित्सक सुश्रुत, जिन्हें सर्जरी का जनक भी माना जाता है, ने सुश्रुत संहिता लिखी. इसमें 11 सौ से भी ज्यादा बीमारियों के इलाज के अलावा सर्जरी की प्रक्रिया का भी जिक्र है. सुश्रुत ने बताया है कि नाक की सर्जरी कैसे की जाती है और किस तरह से स्किन ग्राफ्टिंग होती है. जानते हैं भारत में हुई इन सर्जरियों के बारे में क्या कहती है सुश्रुत संहिता.

news18 hindi

अगर आप मानते हैं कि प्लास्टिक सर्जरी और नाक-होंठों को आकार देना मॉर्डन युग और पश्चिमी देशों की देन है तो आप गलत हैं. इसकी शुरुआत आज से लगभग 2500 साल पहले भारत से हो चुकी थी. प्राचीन भारतीय चिकित्सक सुश्रुत, जिन्हें सर्जरी का जनक भी माना जाता है, ने सुश्रुत संहिता लिखी. इसमें 11 सौ से भी ज्यादा बीमारियों के इलाज के अलावा सर्जरी की प्रक्रिया का भी जिक्र है. सुश्रुत ने बताया है कि नाक की सर्जरी कैसे की जाती है और किस तरह से स्किन ग्राफ्टिंग होती है. जानते हैं भारत में हुई इन सर्जरियों के बारे में क्या कहती है सुश्रुत संहिता.

Latest Live TV