ब्रेस्टफीडिंग के दौरान मां को क्यों नहीं खानी चाहिए एंटीबायोटिक

नॉलेजJanuary 16, 2019, 6:20 PM IST

जब बैक्टीरिया का इन्फेक्शन ज़्यादा होता है और प्रतिरोधक तंत्र के लिए लड़ना मुश्किल होता है. तब आप बीमार पड़ जाते हैं और तभी एंटीबायोटिक्स की मदद ली जाती है. ये दवाएं खराब बैक्टीरिया को खत्म करती हैं. यह जीवाणुओं के विकास को रोकती है. बैक्टीरिया के संक्रमण को रोक उपचार में मदद करती है. अन्‍य सूक्ष्‍मजीवों से होने वाले संक्रमण से शरीर की रक्षा करती है. एंटीबायोटिक्स दवाएं अनहेल्दी व हेल्दी बैक्टीरिया के बीच फ़र्क़ नहीं कर पातीं, ये हेल्दी बैक्टीरिया को भी मार देती हैं. जानें, जब बच्चे को दूध पिलाने वाली मां, इन्हें खाती है तो बच्चे पर क्या फर्क पड़ता है.

news18 hindi

जब बैक्टीरिया का इन्फेक्शन ज़्यादा होता है और प्रतिरोधक तंत्र के लिए लड़ना मुश्किल होता है. तब आप बीमार पड़ जाते हैं और तभी एंटीबायोटिक्स की मदद ली जाती है. ये दवाएं खराब बैक्टीरिया को खत्म करती हैं. यह जीवाणुओं के विकास को रोकती है. बैक्टीरिया के संक्रमण को रोक उपचार में मदद करती है. अन्‍य सूक्ष्‍मजीवों से होने वाले संक्रमण से शरीर की रक्षा करती है. एंटीबायोटिक्स दवाएं अनहेल्दी व हेल्दी बैक्टीरिया के बीच फ़र्क़ नहीं कर पातीं, ये हेल्दी बैक्टीरिया को भी मार देती हैं. जानें, जब बच्चे को दूध पिलाने वाली मां, इन्हें खाती है तो बच्चे पर क्या फर्क पड़ता है.

Latest Live TV