लाइव टीवी
होम » वीडियो » मध्य प्रदेश

VIDEO: रावनकुंड गांव में 15 वर्षों से लगातार चल रहा है सफाई अभियान

डिंडोरी News18 Madhya Pradesh| December 22, 2018, 12:28 PM IST

मध्य प्रदेश के डिंडौरी जिले के शहपुरा इलाके में एक ऐसा गांव है जिसका नाम रावनकुंड है, लेकिन इस गांव के लोग भगवान राम से प्रेरित है. स्वच्छता की मिशाल बने इस गांव में खुले में शौच करना पूर्णत: प्रतिबंधित है और यदि कोई ऐसा कृत्य करता हुआ पाया जाता है तो उसी से गंदगी साफ करवाई जाती है व 500 रुपये का आर्थिक दंड भी लगाया जाता है. गांव को स्वच्छ और हरा-भरा बनाए रखने के लिए ग्रामीणों ने टोलिया बनाई हुई है, जो इस अभियान को जारी रखे हुए है. हर रोज गांव की महिलाएं व पुरुष सफाई करते हैं और जंगलों को बचाने के लिए पहरेदारी की जाती है. ग्रामीणों ने बताया कि करीब 15 साल पहले गंदगी के कारण पूरा गांव बीमारी की चपेट में आ गया था, उसके बाद गांव वालों ने गांव को स्वच्छ और हरा-भरा रखने का संकल्प लिया था. तब से लेकर आज तक इस गांव में सफाई अभियान जारी है. गांव के सभी बच्चे स्वच्छता के प्रति जागरूक है और पढ़ाई के साथ सफाई में भी सहयोग करते हैं. गांव के शिक्षक का कहना है कि बिना सरकारी मदद के ऐसे सफाई अभियान चलाने वाले गांव को सम्मान मिलना चाहिए.

Vijay tiwari
First published: December 22, 2018, 12:18 PM IST

मध्य प्रदेश के डिंडौरी जिले के शहपुरा इलाके में एक ऐसा गांव है जिसका नाम रावनकुंड है, लेकिन इस गांव के लोग भगवान राम से प्रेरित है. स्वच्छता की मिशाल बने इस गांव में खुले में शौच करना पूर्णत: प्रतिबंधित है और यदि कोई ऐसा कृत्य करता हुआ पाया जाता है तो उसी से गंदगी साफ करवाई जाती है व 500 रुपये का आर्थिक दंड भी लगाया जाता है. गांव को स्वच्छ और हरा-भरा बनाए रखने के लिए ग्रामीणों ने टोलिया बनाई हुई है, जो इस अभियान को जारी रखे हुए है. हर रोज गांव की महिलाएं व पुरुष सफाई करते हैं और जंगलों को बचाने के लिए पहरेदारी की जाती है. ग्रामीणों ने बताया कि करीब 15 साल पहले गंदगी के कारण पूरा गांव बीमारी की चपेट में आ गया था, उसके बाद गांव वालों ने गांव को स्वच्छ और हरा-भरा रखने का संकल्प लिया था. तब से लेकर आज तक इस गांव में सफाई अभियान जारी है. गांव के सभी बच्चे स्वच्छता के प्रति जागरूक है और पढ़ाई के साथ सफाई में भी सहयोग करते हैं. गांव के शिक्षक का कहना है कि बिना सरकारी मदद के ऐसे सफाई अभियान चलाने वाले गांव को सम्मान मिलना चाहिए.

Latest Live TV