लाइव टीवी
होम » वीडियो » मध्य प्रदेश

VIDEO: जहां मोबाइल नेटवर्क नहीं पहुंचा वहां पहुंचेगी जननी गाड़ी, ऐसे मिलेगा लाभ

खंडवा News18 Madhya Pradesh| January 27, 2019, 1:38 PM IST

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले के आदिवासी अंचल खालवा में घरेलू प्रसव को कम करने के लिए कलेक्टर विशेष गढ़पाले द्वारा एक विशेष गाड़ी तैयार करवाई गई है. इस गाड़ी का नाम है जननी गाड़ी. इसकी मदद से अब मोबाइल नेटवर्क से वंचित गांव में गर्भवती महिला को लाभ दिया जाएगा. प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कलेक्टर की इस पहल को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू करवाया है. खंडवा में अगर यह प्रयोग सफल होता है तो जल्द ही इसे पूरे प्रदेश में लागू किया जा सकता है. खंडवा के खालवा ब्लॉक में दो दर्जन गांव ऐसे हैं, जहां मोबाइल नेटवर्क नहीं है. गांव में मोबाइल नहीं होने से गर्भवती महिलाएं या उनके परिजन डायल 100 या जननी एक्सप्रेस से संपर्क नहीं कर सकते. लिहाजा आदिवासी अंचल में आज भी बच्चें घरों में जन्म ले रहे हैं, जबकि सरकार संस्थागत प्रसव पर काफी जोर देती आ रही है. खंडवा कलेक्टर ने इससे निजात पाने के लिए एक विशेष तरह की गाड़ी बनवाई है, जो जननी एक्सप्रेस की तर्ज पर गर्भवती महिलाओं के पास स्वयं चलकर जाएगी. इस गाड़ी की खास बात यह है कि गांव की नर्स द्वारा गर्भवती महिलाओं को दी गई डिलीवरी की संभावित तिथि से करीब सात दिन पहले उसके घर पर खड़ी कर दी जाएगी. इससे जच्चा को जब भी प्रसव वेदना होगी तो फोन नहीं कर इस जननी गाड़ी का इस्तेमाल किया जा सकेगा और समय में संस्थागत प्रसव संभव हो सकेगा. बहरहाल, खंडवा जिला प्रशासन की इस कोशिश से कितनी कामयाबी मिलती है ये तो आने वाला समय ही बताएगा, लेकिन सुदूर अंचलों में मोबाइल नेटवर्क नहीं होने की समस्या को कोसने के बजाय कलेक्टर की यह कोशिश फाफी बेमिसाल है

Harendra Nath Thakur
First published: January 27, 2019, 1:36 PM IST

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले के आदिवासी अंचल खालवा में घरेलू प्रसव को कम करने के लिए कलेक्टर विशेष गढ़पाले द्वारा एक विशेष गाड़ी तैयार करवाई गई है. इस गाड़ी का नाम है जननी गाड़ी. इसकी मदद से अब मोबाइल नेटवर्क से वंचित गांव में गर्भवती महिला को लाभ दिया जाएगा. प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कलेक्टर की इस पहल को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू करवाया है. खंडवा में अगर यह प्रयोग सफल होता है तो जल्द ही इसे पूरे प्रदेश में लागू किया जा सकता है. खंडवा के खालवा ब्लॉक में दो दर्जन गांव ऐसे हैं, जहां मोबाइल नेटवर्क नहीं है. गांव में मोबाइल नहीं होने से गर्भवती महिलाएं या उनके परिजन डायल 100 या जननी एक्सप्रेस से संपर्क नहीं कर सकते. लिहाजा आदिवासी अंचल में आज भी बच्चें घरों में जन्म ले रहे हैं, जबकि सरकार संस्थागत प्रसव पर काफी जोर देती आ रही है. खंडवा कलेक्टर ने इससे निजात पाने के लिए एक विशेष तरह की गाड़ी बनवाई है, जो जननी एक्सप्रेस की तर्ज पर गर्भवती महिलाओं के पास स्वयं चलकर जाएगी. इस गाड़ी की खास बात यह है कि गांव की नर्स द्वारा गर्भवती महिलाओं को दी गई डिलीवरी की संभावित तिथि से करीब सात दिन पहले उसके घर पर खड़ी कर दी जाएगी. इससे जच्चा को जब भी प्रसव वेदना होगी तो फोन नहीं कर इस जननी गाड़ी का इस्तेमाल किया जा सकेगा और समय में संस्थागत प्रसव संभव हो सकेगा. बहरहाल, खंडवा जिला प्रशासन की इस कोशिश से कितनी कामयाबी मिलती है ये तो आने वाला समय ही बताएगा, लेकिन सुदूर अंचलों में मोबाइल नेटवर्क नहीं होने की समस्या को कोसने के बजाय कलेक्टर की यह कोशिश फाफी बेमिसाल है

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले के आदिवासी अंचल खालवा में घरेलू प्रसव को कम करने के लिए कलेक्टर विशेष गढ़पाले द्वारा एक विशेष गाड़ी तैयार करवाई गई है. इस गाड़ी का नाम है जननी गाड़ी. इसकी मदद से अब मोबाइल नेटवर्क से वंचित गांव में गर्भवती महिला को लाभ दिया जाएगा. प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कलेक्टर की इस पहल को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू करवाया है. खंडवा में अगर यह प्रयोग सफल होता है तो जल्द ही इसे पूरे प्रदेश में लागू किया जा सकता है. खंडवा के खालवा ब्लॉक में दो दर्जन गांव ऐसे हैं, जहां मोबाइल नेटवर्क नहीं है. गांव में मोबाइल नहीं होने से गर्भवती महिलाएं या उनके परिजन डायल 100 या जननी एक्सप्रेस से संपर्क नहीं कर सकते. लिहाजा आदिवासी अंचल में आज भी बच्चें घरों में जन्म ले रहे हैं, जबकि सरकार संस्थागत प्रसव पर काफी जोर देती आ रही है. खंडवा कलेक्टर ने इससे निजात पाने के लिए एक विशेष तरह की गाड़ी बनवाई है, जो जननी एक्सप्रेस की तर्ज पर गर्भवती महिलाओं के पास स्वयं चलकर जाएगी. इस गाड़ी की खास बात यह है कि गांव की नर्स द्वारा गर्भवती महिलाओं को दी गई डिलीवरी की संभावित तिथि से करीब सात दिन पहले उसके घर पर खड़ी कर दी जाएगी. इससे जच्चा को जब भी प्रसव वेदना होगी तो फोन नहीं कर इस जननी गाड़ी का इस्तेमाल किया जा सकेगा और समय में संस्थागत प्रसव संभव हो सकेगा. बहरहाल, खंडवा जिला प्रशासन की इस कोशिश से कितनी कामयाबी मिलती है ये तो आने वाला समय ही बताएगा, लेकिन सुदूर अंचलों में मोबाइल नेटवर्क नहीं होने की समस्या को कोसने के बजाय कलेक्टर की यह कोशिश फाफी बेमिसाल है

Latest Live TV

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

आप अपनी भावनाओं पर क़ाबू रखने में दिक़्क़त महसूस करेंगे – आपका अजीब रवैया लोगों को भ्रमित करेगा और इसलिए आपमे झुंझलाहट पैदा करेगा। किसी बड़े समूह में भागीदारी आपके लिए दिलचस्प साबित होगी, हालाँकि आपके ख़र्चे बढ़ सकते हैं। दोस्तों के साथ घूमना-फिरना मज़ेदार रहेगा। लेकिन ज़्यादा पैसे ख़र्च न करें, नहीं तो आप खाली जेब लेकर घर पहुँचेंगे। आज प्यार के नज़रिए से दिन काफ़ी विवादास्पद रहेगा। कार्यक्षेत्र में आपके प्रतिद्वन्द्वियों को अपने ग़लत कामों का फल मिलेगा। वक़ील के पास जाकर क़ानूनी सलाह लेने के लिए अच्छा दिन है। रिश्तेदारों का दख़ल शादीशुदा ज़िन्दगी में परेशानी पैदा कर सकता है। सितारों की मानें तो आज आप अपने दोस्तों के साथ एक बेहतरीन शाम गुज़ारने वाले हैं। बस इतना याद रखें कि कोई भी चीज़ ज़रूरत से ज़्यादा हो तो अच्छी नहीं होती है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
corona virus btn
corona virus btn
Loading