VIDEO: एसडीएम और नायब तहसीलदार को महिला ने दिखाई चप्‍पल

मध्य प्रदेश11:10 PM IST Sep 21, 2018

मध्‍यप्रदेश के विदिशा में कलेक्‍टोरेट परिसर के पास चिटफंड कंपनी के कर्मचारी तीन दिन से चल रहे अनिश्चितकालीन धरना स्थल के सामने सड़क पर ही गुरुवार को चक्काजाम करने लगे. जब जिला और पुलिस प्रशासन की टीम उन्‍हें हटाने पहुंची तो महिला कर्मचारी सखीबाई अहिरवार ने मौके पर पहुंचे विदिशा एसडीएम चंद्रमोहन गोहिल और नायब तहसीलदार को चप्पल दिखाते हुए कहा कि हमें न्याय चाहिए. उसने अपने कई रिश्‍तेदारों और परिचितों के कंपनी में खाते खुलवाकर रकम जमा कराई थी. प्रदेश सरकार ने पहले तो चिटफंड कंपनियों को लायसेंस दिया और फिर कम्पनियां बन्द कर दी गईं. अब चिटफंड कंपनियों के खातेदार उन कर्मचारियों से अपनी रकम वापस मांग रहे हैं. सखीबाई अहिरवार का कहना है कि इसी के चलते उसके पति ने भी उसे घर से बाहर कर दिया है. सखीबाई कहती है कि हमारे पास आत्महत्या करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है.

Bharat Rajput

मध्‍यप्रदेश के विदिशा में कलेक्‍टोरेट परिसर के पास चिटफंड कंपनी के कर्मचारी तीन दिन से चल रहे अनिश्चितकालीन धरना स्थल के सामने सड़क पर ही गुरुवार को चक्काजाम करने लगे. जब जिला और पुलिस प्रशासन की टीम उन्‍हें हटाने पहुंची तो महिला कर्मचारी सखीबाई अहिरवार ने मौके पर पहुंचे विदिशा एसडीएम चंद्रमोहन गोहिल और नायब तहसीलदार को चप्पल दिखाते हुए कहा कि हमें न्याय चाहिए. उसने अपने कई रिश्‍तेदारों और परिचितों के कंपनी में खाते खुलवाकर रकम जमा कराई थी. प्रदेश सरकार ने पहले तो चिटफंड कंपनियों को लायसेंस दिया और फिर कम्पनियां बन्द कर दी गईं. अब चिटफंड कंपनियों के खातेदार उन कर्मचारियों से अपनी रकम वापस मांग रहे हैं. सखीबाई अहिरवार का कहना है कि इसी के चलते उसके पति ने भी उसे घर से बाहर कर दिया है. सखीबाई कहती है कि हमारे पास आत्महत्या करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है.

Latest Live TV