1996 समलेटी ब्लास्ट केस: 'मेरी दुनिया खत्म हो चुकी है'

देश News18India| July 26, 2019, 9:57 PM IST

21 जुलाई को राजस्थान हाई कोर्ट ने साल 1996 समलेटी ब्लास्ट केस में आरोपी बनाए गए पांच लोगों को रिहा कर दिया गया. ये आरोपी 23 साल अपनी जिंदगी के जेल में बिता चुके हैं. इस केस के पांच आरोपी को पिछले 23 साल न तो कभी जमानत मिली और ना ही वे कभी परोल पर रिहा हो पाए. जेल से रिहाई के बाद एक आरोपी महमूद अली का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. इस वीडियो में एक महमूद अली सबसे पहले अपने माता-पिता की कब्र पर पहुंचे और कब्र के सामने जमीन पर लेटकर खूब रो रहे हैं.न्यूज 18 इंडिया ने महमूद अली से बात की. उन्होंने बताया कि इन 23 सालों में उन्होंने सबकुछ खो दिया है. उनकी जिंदगी में कुछ भी बचा नहीं है. उन्होंने कहा कि मेरी भाई और बहन मेरे जेल से रिहा होने पर खुश हैं लेकिन मैं खुश नहीं हूं. इन 23 सालों में मेरी दुनिया खत्म हो चुकी है.

news18 hindi
First published: July 26, 2019, 9:56 PM IST

21 जुलाई को राजस्थान हाई कोर्ट ने साल 1996 समलेटी ब्लास्ट केस में आरोपी बनाए गए पांच लोगों को रिहा कर दिया गया. ये आरोपी 23 साल अपनी जिंदगी के जेल में बिता चुके हैं. इस केस के पांच आरोपी को पिछले 23 साल न तो कभी जमानत मिली और ना ही वे कभी परोल पर रिहा हो पाए. जेल से रिहाई के बाद एक आरोपी महमूद अली का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. इस वीडियो में एक महमूद अली सबसे पहले अपने माता-पिता की कब्र पर पहुंचे और कब्र के सामने जमीन पर लेटकर खूब रो रहे हैं.न्यूज 18 इंडिया ने महमूद अली से बात की. उन्होंने बताया कि इन 23 सालों में उन्होंने सबकुछ खो दिया है. उनकी जिंदगी में कुछ भी बचा नहीं है. उन्होंने कहा कि मेरी भाई और बहन मेरे जेल से रिहा होने पर खुश हैं लेकिन मैं खुश नहीं हूं. इन 23 सालों में मेरी दुनिया खत्म हो चुकी है.

Latest Live TV