लाइव टीवी

Jeevan Samvad by Dayashankar Mishra#जीवनसंवाद: प्रेम और संदेह के बादल!

देश News18Hindi| January 17, 2020, 6:06 PM IST

प्रेम (Love) के बिना रिश्‍ते में संदेह संभव नहीं. इसलिए दोनों बहुत हद तक साथ चलते हैं. प्रेम प्रबल रहता है तो संदेह को एक इंच भी जगह नहीं देता. अगर वह जरा भी दुर्बल हुआ तो संदेह (Doubt) बादल की तरह सूरज के सामने आ जाता है. कई बार शक्तिशाली बादल तेजस्‍वी सूरज की राह रोक लेते हैं. रिश्तो में यही बात प्रेम और संदेह के साथ होती है.

News18 Hindi
First published: January 17, 2020, 6:06 PM IST

प्रेम (Love) के बिना रिश्‍ते में संदेह संभव नहीं. इसलिए दोनों बहुत हद तक साथ चलते हैं. प्रेम प्रबल रहता है तो संदेह को एक इंच भी जगह नहीं देता. अगर वह जरा भी दुर्बल हुआ तो संदेह (Doubt) बादल की तरह सूरज के सामने आ जाता है. कई बार शक्तिशाली बादल तेजस्‍वी सूरज की राह रोक लेते हैं. रिश्तो में यही बात प्रेम और संदेह के साथ होती है.

Latest Live TV