लाइव टीवी

वीडियो : Jeevan Samvad by Dayashankar Mishra : हिंसा सिखाना !

देश News18Hindi| March 2, 2020, 5:30 PM IST

हमारा मूल स्‍वभाव क्‍या है. जन्‍म लेने के बाद पहला काम रोने का करते हैं. गुस्‍सा होने का नहीं. नवजात गोद में आने के बाद रोता है. वह गुस्‍से से नहीं देखता है. नाराजगी से नहीं देखता. इसका सहज अर्थ हुआ कि वह धरती को देखकर डर गया है. अब वह नई दुनिया में है. मां के सुरक्षित गर्भ के बाहर उसका पहला पल! जिसका पहला ही काम आंसू से जुड़ा हुआ है. वह करुणा के करीब हो सकता है. हिंसा के नहीं. हिंसा तो सीखते हैं. धीरे-धीरे. दूसरों को देखते हुए. शब्द, भाव भंगिमा और क्रिया से. हम सीखते हैं दूसरे को मारना. उससे भेदभाव करना. अपने हितों के लिए दूसरे को दांव पर लगाना.

News18 Hindi
First published: March 2, 2020, 5:30 PM IST

हमारा मूल स्‍वभाव क्‍या है. जन्‍म लेने के बाद पहला काम रोने का करते हैं. गुस्‍सा होने का नहीं. नवजात गोद में आने के बाद रोता है. वह गुस्‍से से नहीं देखता है. नाराजगी से नहीं देखता. इसका सहज अर्थ हुआ कि वह धरती को देखकर डर गया है. अब वह नई दुनिया में है. मां के सुरक्षित गर्भ के बाहर उसका पहला पल! जिसका पहला ही काम आंसू से जुड़ा हुआ है. वह करुणा के करीब हो सकता है. हिंसा के नहीं. हिंसा तो सीखते हैं. धीरे-धीरे. दूसरों को देखते हुए. शब्द, भाव भंगिमा और क्रिया से. हम सीखते हैं दूसरे को मारना. उससे भेदभाव करना. अपने हितों के लिए दूसरे को दांव पर लगाना.

हमारा मूल स्‍वभाव क्‍या है. जन्‍म लेने के बाद पहला काम रोने का करते हैं. गुस्‍सा होने का नहीं. नवजात गोद में आने के बाद रोता है. वह गुस्‍से से नहीं देखता है. नाराजगी से नहीं देखता. इसका सहज अर्थ हुआ कि वह धरती को देखकर डर गया है. अब वह नई दुनिया में है. मां के सुरक्षित गर्भ के बाहर उसका पहला पल! जिसका पहला ही काम आंसू से जुड़ा हुआ है. वह करुणा के करीब हो सकता है. हिंसा के नहीं. हिंसा तो सीखते हैं. धीरे-धीरे. दूसरों को देखते हुए. शब्द, भाव भंगिमा और क्रिया से. हम सीखते हैं दूसरे को मारना. उससे भेदभाव करना. अपने हितों के लिए दूसरे को दांव पर लगाना.

Latest Live TV

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

कुछ ऐसी घटनाएँ आपकी परेशानी का कारण बन सकती हैं, जिन्हें टालना मुमकिन न हो। लेकिन आप ख़ुद को शांत बनाए रखें और हालात से निपटने के लिए तुरंत प्रतिक्रिया न करें। आर्थिक समस्याओं ने रचनात्मक सोचने की आपकी क्षमता को बेकार कर दिया है। आज आप यह जानकर बहुत उदास महसूस करेंगे कि कोई ऐसा जिसपर आपने हमेशा विश्वास किया, दरअसल उतना भरोसेमंद नहीं है। अपने प्रिय को आज निराश न करें- क्योंकि ऐसा करने की वजह से बाद में आपको पछताना पड़ सकता है। यह दिन वाक़ई थोड़ा मुश्किल है। काम पर जाने से पहले मन पक्का कर लें। आज सोच-समझकर क़दम बढ़ाने की ज़रूरत है- जहाँ दिल की बजाय दिमाग़ का ज़्यादा इस्तेमाल करना चाहिए। आज अपने जीवनसाथी का वह रुख़ देखने को मिलेगा, जो उतना अच्छा नहीं है। अकेलेपन को अपने ऊपर हावी न होने दें, इससे बेहतर होगा कि आप कहीं घूमने के लिए निकल सकते हैं। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
corona virus btn
corona virus btn
Loading