गीतकार शैलेंद्र जयंती विशेष: गीतों की न थमने वाली बरसात थे शैलेंद्र | News18
गीतकार शैलेंद्र जयंती विशेष: गीतों की न थमने वाली बरसात थे शैलेंद्र | News18
  • August 31, 2021, 00:42 IST
  • News18 Bihar Jharkhand
facebooktwitter

गीतकार शैलेंद्र जयंती विशेष: गीतों की न थमने वाली बरसात थे शैलेंद्र | News18

गीतकार शैलेंद्र (Shailendra) का आखिरी गीत सबको रुला गया. उन्होंने खुद को कमरे में बंद कर लिया था. आरडी बर्मन (RD Burman) बार-बार मिलने आते, लेकिन शैलेंद्र उनसे न मिलते. फिर एक दिन एक गाना लिखने के लिए राजी हुए, इस गाने को आज भी सुनने पर आंखों में आंसू आ जाते हैं.बिहार और झारखंड के ताज़ा ख़बरों के लि

और अधिक पढ़ें
विज्ञापन
विज्ञापन

News18 Virals: Bihar

और भी देखें

News18 Virals: Rajasthan

और भी देखें
विज्ञापन

KADAK MONEY

और भी देखें