CBI कोर्ट के मुताबिक अचानक हुई ढांचा गिराने की घटना, किसी के साजिश होने के पुख्ता प्रमाण नहीं
CBI कोर्ट के मुताबिक अचानक हुई ढांचा गिराने की घटना, किसी के साजिश होने के पुख्ता प्रमाण नहीं
  • September 30, 2020, 09:15 IST
  • News18 India
facebooktwitter

CBI कोर्ट के मुताबिक अचानक हुई ढांचा गिराने की घटना, किसी के साजिश होने के पुख्ता प्रमाण नहीं

28 साल पुराने बाबरी विध्वंस केस में सीबीआई कोर्ट का फैसला आ चुका है. कोर्ट ने आडवाणी, जोशी, उमा, कल्याण, नृत्यगोपाल दास सहित सभी 32 आरोपियों को बरी कर दिया है. जज एसके यादव ने फैसला सुनाते हुए कहा कि बाबरी में ढांचा गिराने की घटना पूर्व नियोजित नहीं थी.बाबरी विध्वंस केस में फैसला सुनाते हुए जज एसके

और अधिक पढ़ें
विज्ञापन
विज्ञापन

News18 Virals: Bihar

और भी देखें

News18 Virals: Rajasthan

और भी देखें
विज्ञापन

KADAK MONEY

और भी देखें