• October 15, 2020, 18:41 IST
  • News18 Rajasthan

हिंदी प्रेम का मतलब अंग्रेजी से परहेज क्यों ? | PRIME DEBATE | J P Sharma

अंग्रेजी के प्रति हमारा आग्रह उतना ही पुराना है जितना हिन्दुस्तान में अंग्रेजों का इतिहास. अंग्रेजी भाषा हमेशा से हिंदुस्तान में बहस का मुद्दा रही है. एक तर्क ये दिया जाता है अंग्रेजी विदेशी और हिंदी हमारी मात्र भाषा है. दूसरा नजरिया बताता है की हिन्दुस्तान में कोस-कोस पर पानी बदले, ढाई कोस पर बानी।

और अधिक पढ़ें
विज्ञापन