लाइव टीवी
होम » वीडियो » राजस्थान

कैबिनेट मंत्री हरीश चौधरी बोले, 'हेमाराम चौधरी को मंत्री नहीं बनाया जाना दुर्भाग्यपूर्ण'

बाड़मेर News18 Rajasthan| January 5, 2019, 2:29 PM IST

मारवाड़ के कद्दावर नेता हेमाराम चौधरी को गहलोत सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किए जाने को प्रदेश के राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. मंत्रिमंडल गठन के बाद हेमाराम चौधरी के समर्थक उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल करने की मांग को लेकर सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट से भी मिले थे. इस पूरे मामले में पहली बार गहलोत सरकार के कैबिनेट मंत्री हरीश चौधरी ने बयान दिया है. शुक्रवार को बाड़मेर में अपने बयान में मंत्री हरीश चौधरी ने हेमाराम चौधरी को राज्य की कैबिनेट में जगह नहीं मिलने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने कहा कि वे और बाड़मेर जिले के कांग्रेस के कार्यकर्ता चाहते हैं कि पार्टी हेमाराम चौधरी को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दे ताकि बाड़मेर के साथ राजस्थान के किसानों में एक अच्छा संदेश जाए. उल्लेखनीय है कि हेमाराम चौधरी गुड़ामालानी विधानसभा क्षेत्र से छठी बार विधायक चुने गए हैं. इससे पहले कांग्रेस सरकार में हेमाराम चौधरी दो बार राजस्व मंत्री रह चुके हैं. बताया जा रहा है कि मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने से हेमाराम चौधरी कुछ नाराज हैं. लिहाजा वे किसी नेता से मिल भी नहीं रहे हैं. कांग्रेस भी लोकसभा चुनाव से पहले हेमाराम को मानना चाहती है.

Premdan Detha
First published: January 5, 2019, 2:29 PM IST

मारवाड़ के कद्दावर नेता हेमाराम चौधरी को गहलोत सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किए जाने को प्रदेश के राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. मंत्रिमंडल गठन के बाद हेमाराम चौधरी के समर्थक उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल करने की मांग को लेकर सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट से भी मिले थे. इस पूरे मामले में पहली बार गहलोत सरकार के कैबिनेट मंत्री हरीश चौधरी ने बयान दिया है. शुक्रवार को बाड़मेर में अपने बयान में मंत्री हरीश चौधरी ने हेमाराम चौधरी को राज्य की कैबिनेट में जगह नहीं मिलने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने कहा कि वे और बाड़मेर जिले के कांग्रेस के कार्यकर्ता चाहते हैं कि पार्टी हेमाराम चौधरी को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दे ताकि बाड़मेर के साथ राजस्थान के किसानों में एक अच्छा संदेश जाए. उल्लेखनीय है कि हेमाराम चौधरी गुड़ामालानी विधानसभा क्षेत्र से छठी बार विधायक चुने गए हैं. इससे पहले कांग्रेस सरकार में हेमाराम चौधरी दो बार राजस्व मंत्री रह चुके हैं. बताया जा रहा है कि मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने से हेमाराम चौधरी कुछ नाराज हैं. लिहाजा वे किसी नेता से मिल भी नहीं रहे हैं. कांग्रेस भी लोकसभा चुनाव से पहले हेमाराम को मानना चाहती है.

Latest Live TV