VIDEO : राजस्थानी सांस्कृतिक संध्या में भपंग वादन व भवाई नृत्य रहे आकर्षण का केंद्र

चूरू03:53 PM IST Mar 15, 2019

सुजानगढ़ की स्वयंसेवी संस्था दी यंग्स क्लब ट्रस्ट द्वारा गुरूवार रात्रि को विशाल राजस्थानी सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया. कन्हैयालाल कमलादेवी डूंगरवाल के सौजन्य से आयोजित सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ उपखंड अधिकारी रतनलाल स्वामी, सभापति सिकंदर अली खिलजी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलन कर किया. गणेश वंदना से अंतरराष्ट्रीय लोक कलाकार बुंदू खां लंगा ने कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए- आवै हिचकी... की शानदार प्रस्तुति दी. इसी प्रकार उदयपुर की विजयलक्ष्मी आमेटा द्वारा शानदार भवाई नृत्य व चरी नृत्य की प्रस्तुतियां दी गईं तो पंडाल तालियों से गूंज उठा. बालोतरा की लक्ष्मणराम एंड पार्टी ने बाढ़मेर के परंपरागत गैर नृत्य की प्रस्तुति दी तो मानो राजस्थान की संस्कृति वहां सजीव हो उठी. वहीं कार्यक्रम का समापन पद्मश्री कन्हैयालाल सेठिया की अमर रचना- धरती धोरां.. पर सामूहिक नृत्य के साथ हुआ. कार्यक्रम का देर रात तक हजारों लोगों ने आनंद उठाया. संचालन गिरधर शर्मा ने करते हुए सभी कलाकारों का परिचय दिया और विभिन्न नृत्यों के बारे में जानकारी दी.

manoj sharma

सुजानगढ़ की स्वयंसेवी संस्था दी यंग्स क्लब ट्रस्ट द्वारा गुरूवार रात्रि को विशाल राजस्थानी सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया. कन्हैयालाल कमलादेवी डूंगरवाल के सौजन्य से आयोजित सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ उपखंड अधिकारी रतनलाल स्वामी, सभापति सिकंदर अली खिलजी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलन कर किया. गणेश वंदना से अंतरराष्ट्रीय लोक कलाकार बुंदू खां लंगा ने कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए- आवै हिचकी... की शानदार प्रस्तुति दी. इसी प्रकार उदयपुर की विजयलक्ष्मी आमेटा द्वारा शानदार भवाई नृत्य व चरी नृत्य की प्रस्तुतियां दी गईं तो पंडाल तालियों से गूंज उठा. बालोतरा की लक्ष्मणराम एंड पार्टी ने बाढ़मेर के परंपरागत गैर नृत्य की प्रस्तुति दी तो मानो राजस्थान की संस्कृति वहां सजीव हो उठी. वहीं कार्यक्रम का समापन पद्मश्री कन्हैयालाल सेठिया की अमर रचना- धरती धोरां.. पर सामूहिक नृत्य के साथ हुआ. कार्यक्रम का देर रात तक हजारों लोगों ने आनंद उठाया. संचालन गिरधर शर्मा ने करते हुए सभी कलाकारों का परिचय दिया और विभिन्न नृत्यों के बारे में जानकारी दी.

Latest Live TV