लाइव टीवी
होम » वीडियो » राजस्थान

VIDEO : न्हाण लोकोत्सव के अंतर्गत मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की निकाली भव्य शोभयात्रा

कोटा News18 Rajasthan| April 2, 2019, 11:44 PM IST

होली के बाद हाडौती अंचल के गांव-कस्बों में लोकोत्सव न्हाण की रियासतकालीन परंपरा का निर्वहन आज भी भलीभांति किया जाता है. सांगोद के बाद हाडौती के अंता कस्बे में दो दिवसीय न्हाण लोकउत्सव का आयोजन हुआ. कल सोमवार की रात अंता कस्बे में तड़के चार बजे मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की भव्य शोभयात्रा निकाली गई. कस्बावासियों ने नौ कन्याओं का नवदुर्गा का स्वरूप में सजाया और उन्हें देवविमानों में विराजित किया. पूजा अर्चना करने के बाद उन्हें शोभायात्रा के रूप में कस्बे में घूमाया गया. कस्बेवासियों ने घर परिवार की सुख समृद्धि की कामना करते हुए नौ दुर्गा माता स्वरूपा से आशीर्वाद लिया. शोभायात्रा अंत में कस्बे के प्रसिद्ध अन्नपूर्णा माता मंदिर पर पहुंची. यहां पुजारी ने नौ स्वरूपों मां दुर्गा, भवानी, काली मां की महाआरती की. शोभायात्रा में भोले शंकर पार्वती व भगवान हनुमान की झांकी भी सजाई गई. रियासतकालीन परंपरा के इस उत्सव में युवाओं ने में बढ़चढ़कर हिस्सा लिया. किसी ने मुंह से आग के गोले निकालने का हैरतअंगेज करतब दिखाए तो किसी ने मुंह को छिदवाया. इस लोकउत्सव में बड़ी संख्या में आसपास के कस्बों व गांवों के ग्रामीण भी शामिल हुए. (अर्जुन अरविंद की रिपोर्ट)

news18 hindi
First published: April 2, 2019, 11:44 PM IST

होली के बाद हाडौती अंचल के गांव-कस्बों में लोकोत्सव न्हाण की रियासतकालीन परंपरा का निर्वहन आज भी भलीभांति किया जाता है. सांगोद के बाद हाडौती के अंता कस्बे में दो दिवसीय न्हाण लोकउत्सव का आयोजन हुआ. कल सोमवार की रात अंता कस्बे में तड़के चार बजे मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की भव्य शोभयात्रा निकाली गई. कस्बावासियों ने नौ कन्याओं का नवदुर्गा का स्वरूप में सजाया और उन्हें देवविमानों में विराजित किया. पूजा अर्चना करने के बाद उन्हें शोभायात्रा के रूप में कस्बे में घूमाया गया. कस्बेवासियों ने घर परिवार की सुख समृद्धि की कामना करते हुए नौ दुर्गा माता स्वरूपा से आशीर्वाद लिया. शोभायात्रा अंत में कस्बे के प्रसिद्ध अन्नपूर्णा माता मंदिर पर पहुंची. यहां पुजारी ने नौ स्वरूपों मां दुर्गा, भवानी, काली मां की महाआरती की. शोभायात्रा में भोले शंकर पार्वती व भगवान हनुमान की झांकी भी सजाई गई. रियासतकालीन परंपरा के इस उत्सव में युवाओं ने में बढ़चढ़कर हिस्सा लिया. किसी ने मुंह से आग के गोले निकालने का हैरतअंगेज करतब दिखाए तो किसी ने मुंह को छिदवाया. इस लोकउत्सव में बड़ी संख्या में आसपास के कस्बों व गांवों के ग्रामीण भी शामिल हुए. (अर्जुन अरविंद की रिपोर्ट)

Latest Live TV