देश के नक्शे पर सजी रंगोली मिट्टी के 11 हजार दीये जले

राजसमन्द‍12:02 AM IST Nov 03, 2018

राजसमंद के खमनोर मेे टेराकोटा आर्ट्स के लिए विश्व विख्यात मोलेला गांव में गुरुवार की देर रात प्रजापति परिवारों की ओर से ग्यारह हजार एक मिट्टी के दीपक जलाकर स्वदेशी अपनाओ, मिट्टी के दीये जलाओ थीम पर रंगोली सजाई गई. इस मौके पर समाज के सभी सदस्यों ने भाग लेकर भारत के नक्शे पर दीपक जलाए और दीपावली जैसे पारंपरिक त्यौहारों पर चीन या विदेशी दीपक जलाने के बजाय तेल और घी से देशी मिट्टी से बने दीपक जलाने का आह्वान किया. पद्मश्री मोहनलाल कुम्हार की अगुवाई में आयोजित इस कार्यक्रम के दौरान बताया गया कि चीन के दीपक का चलन होने से दीये बनाने वाले प्रजापति परिवारों की रोजी-रोटी पर संकट आ गया है.साथ ही परंपरा के साथ भी खिलवाड़ हो रहा है. यह कार्यक्रम लोगों मे जन जागृति लाने और स्वदेशी की ओर लोगों का ध्यान आकर्षित करने के उद्देश्य से किया गया.

news18 hindi

राजसमंद के खमनोर मेे टेराकोटा आर्ट्स के लिए विश्व विख्यात मोलेला गांव में गुरुवार की देर रात प्रजापति परिवारों की ओर से ग्यारह हजार एक मिट्टी के दीपक जलाकर स्वदेशी अपनाओ, मिट्टी के दीये जलाओ थीम पर रंगोली सजाई गई. इस मौके पर समाज के सभी सदस्यों ने भाग लेकर भारत के नक्शे पर दीपक जलाए और दीपावली जैसे पारंपरिक त्यौहारों पर चीन या विदेशी दीपक जलाने के बजाय तेल और घी से देशी मिट्टी से बने दीपक जलाने का आह्वान किया. पद्मश्री मोहनलाल कुम्हार की अगुवाई में आयोजित इस कार्यक्रम के दौरान बताया गया कि चीन के दीपक का चलन होने से दीये बनाने वाले प्रजापति परिवारों की रोजी-रोटी पर संकट आ गया है.साथ ही परंपरा के साथ भी खिलवाड़ हो रहा है. यह कार्यक्रम लोगों मे जन जागृति लाने और स्वदेशी की ओर लोगों का ध्यान आकर्षित करने के उद्देश्य से किया गया.

Latest Live TV