'आर पार' : राम मन्दिर पर और कितना इन्तज़ार?

आर पार11:51 PM IST Jan 10, 2019

देश की आज़ादी के बाद से कानून में क़रीब 135 संशोधन हो गए. लेकिन भगवान राम से जुड़े राम मन्दिर मामले को 135 साल से इंसाफ का इंतज़ार है. पहली बार राम मन्दिर मामला 1885 में अदालत की चौखट पर आया लेकिन आज तक भगवान राम की जन्मभूमि पर फैसला नहीं आया. आई तो बस तारीख़ और आज भी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू होने से पहले ही बेंच के गठन पर उस वक्त विवाद खड़ा हो गया, जब मुस्लिम पक्षकार के वकील राजीव धवन ने संविधान बेंच के एक जज पर ही सवाल उठा दिए. यानी राम मन्दिर की राह में रोड़े अटकाने वाले आज भी कामयाब हो गए और सुनवाई के लिए 29 जनवरी की तारीख़ तय कर दी गई. आख़िर कब शुरू होगी राम मन्दिर पर सुनवाई? और इससे जुड़ा बड़ा सवाल राम मन्दिर पर और कितना इन्तज़ार.

अमिश देवगन

देश की आज़ादी के बाद से कानून में क़रीब 135 संशोधन हो गए. लेकिन भगवान राम से जुड़े राम मन्दिर मामले को 135 साल से इंसाफ का इंतज़ार है. पहली बार राम मन्दिर मामला 1885 में अदालत की चौखट पर आया लेकिन आज तक भगवान राम की जन्मभूमि पर फैसला नहीं आया. आई तो बस तारीख़ और आज भी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू होने से पहले ही बेंच के गठन पर उस वक्त विवाद खड़ा हो गया, जब मुस्लिम पक्षकार के वकील राजीव धवन ने संविधान बेंच के एक जज पर ही सवाल उठा दिए. यानी राम मन्दिर की राह में रोड़े अटकाने वाले आज भी कामयाब हो गए और सुनवाई के लिए 29 जनवरी की तारीख़ तय कर दी गई. आख़िर कब शुरू होगी राम मन्दिर पर सुनवाई? और इससे जुड़ा बड़ा सवाल राम मन्दिर पर और कितना इन्तज़ार.

Latest Live TV