आर पार : ‘मोदी राज' में विपक्ष पर अस्तित्व संकट!

आर पारMay 27, 2019, 11:10 PM IST

भयानक चुनावी हार के बाद विपक्ष में जब मंथन शुरु हुआ तो सियासी हाहाकार मच गया. कोई इस्तीफा दे रहा है, कोई इस्तीफा माँग रहा है तो किसी के इस्तीफे पर राष्ट्रीय खबर बन गई है. यानी एक तरफ विपक्ष है जिस पर वोट की चोट पड़ी है तो दूसरी ओर पिछले तीन दिनों से नरेंद्र मोदी नई सरकार का एजेंडा सेट करने में लगे हैं. पहले उन्होंने अपने गृह राज्य में वोटरों का धन्यवाद किया, अपनी माता जी से मिले, फिर दिल्ली में नए सांसदों को सत्ता का सूत्र दिया. 'सबका साथ सबका विकास के साथ सबका विश्वास' का मंत्र समझाया और फिर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी की जनता का आभार व्यक्त करने काशी पहुँचे. लेकिन इस बीच बड़ा सवाल ये है कि क्या विपक्ष अस्तित्व संगट में फंस चुका है?

अमिश देवगन

भयानक चुनावी हार के बाद विपक्ष में जब मंथन शुरु हुआ तो सियासी हाहाकार मच गया. कोई इस्तीफा दे रहा है, कोई इस्तीफा माँग रहा है तो किसी के इस्तीफे पर राष्ट्रीय खबर बन गई है. यानी एक तरफ विपक्ष है जिस पर वोट की चोट पड़ी है तो दूसरी ओर पिछले तीन दिनों से नरेंद्र मोदी नई सरकार का एजेंडा सेट करने में लगे हैं. पहले उन्होंने अपने गृह राज्य में वोटरों का धन्यवाद किया, अपनी माता जी से मिले, फिर दिल्ली में नए सांसदों को सत्ता का सूत्र दिया. 'सबका साथ सबका विकास के साथ सबका विश्वास' का मंत्र समझाया और फिर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी की जनता का आभार व्यक्त करने काशी पहुँचे. लेकिन इस बीच बड़ा सवाल ये है कि क्या विपक्ष अस्तित्व संगट में फंस चुका है?

Latest Live TV