लाइव टीवी

'आर पार' : शरीयत बड़ी या सुप्रीम कोर्ट का आदेश?

आर पार News18India| November 13, 2017, 11:30 PM IST

करीब 3 महीने पहले सुप्रीम कोर्ट ने मुस्लिम महिलाओं को उनका सबसे बड़ा हक दे दिय लेकिन कुछ लोग शरिया की आड़ लेकर खुलकर कानून से खिलवाड़ कर रहे हैं. AMU के एक प्रोफेसर पर शादी के 23 साल बाद पत्नी को तीन तलाक़ देने का आरोप लगा है और ये तलाक़ WhatsApp पर भेजा गया है. क्या कुछ लोग सुप्रीम कोर्ट को चुनौती देने की कोशिश कर रहे हैं? हालांकि आरोपी प्रोफेसर का कहना है कि उन्होंने तीसरा तलाक़ नहीं दिया है और उनके साथ अन्याय हो रहा है. लेकिन सवाल ये भी है कि तीन तलाक पर समाज सुधार का ढिंढोरा पीटने वाला मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड आखिर क्या कर रहा है? क्या मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड चुपचाप तमाशा देखने के लिए बना है?

news18 hindi
First published: November 13, 2017, 11:30 PM IST

करीब 3 महीने पहले सुप्रीम कोर्ट ने मुस्लिम महिलाओं को उनका सबसे बड़ा हक दे दिय लेकिन कुछ लोग शरिया की आड़ लेकर खुलकर कानून से खिलवाड़ कर रहे हैं. AMU के एक प्रोफेसर पर शादी के 23 साल बाद पत्नी को तीन तलाक़ देने का आरोप लगा है और ये तलाक़ WhatsApp पर भेजा गया है. क्या कुछ लोग सुप्रीम कोर्ट को चुनौती देने की कोशिश कर रहे हैं? हालांकि आरोपी प्रोफेसर का कहना है कि उन्होंने तीसरा तलाक़ नहीं दिया है और उनके साथ अन्याय हो रहा है. लेकिन सवाल ये भी है कि तीन तलाक पर समाज सुधार का ढिंढोरा पीटने वाला मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड आखिर क्या कर रहा है? क्या मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड चुपचाप तमाशा देखने के लिए बना है?

Latest Live TV