मोहर्रम के लिए दिया जाने लगा है ताजिया को अंतिम रूप

बीकानेर08:30 PM IST Sep 20, 2018

शहादत के पर्व मोहर्रम की तैयारी बीकानेर में भी जोरदार तरीके से चल रही है. शहर के अलग-अलग मोहल्लों में ताजियादारों ने ताजियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है. कलात्मक ताजियों में कलाकारों की श्रद्धा, अकीदत और कला का अद्भुत संगम नजर आ रहा है. बीकानेर में बनने वाले ताजिए अपनी विशेष कला से पूरे प्रदेश में अलग पहचान रखते हैं. इन ताजियों को मुगल कला, उस्ता कला सहित अलग-अलग तरीके से सजाया जाता है. चूनगरान मोहल्ला में बिशारत अली सहित कई साथी कलाकारों ने इस बार ताजिए के एक रुख पर ईरान में बनी कर्बला के दृश्य को उकेरा है. तीन रुखों पर मलेशिया की अलग-अलग मस्जिदों के दृश्य उकेरे गए हैं. बिशारत अली ने बताया कि इस ताजिए को बनाने में कई कलाकार पिछले तीन महीने से लगे हुए हैं.

news18 hindi

शहादत के पर्व मोहर्रम की तैयारी बीकानेर में भी जोरदार तरीके से चल रही है. शहर के अलग-अलग मोहल्लों में ताजियादारों ने ताजियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है. कलात्मक ताजियों में कलाकारों की श्रद्धा, अकीदत और कला का अद्भुत संगम नजर आ रहा है. बीकानेर में बनने वाले ताजिए अपनी विशेष कला से पूरे प्रदेश में अलग पहचान रखते हैं. इन ताजियों को मुगल कला, उस्ता कला सहित अलग-अलग तरीके से सजाया जाता है. चूनगरान मोहल्ला में बिशारत अली सहित कई साथी कलाकारों ने इस बार ताजिए के एक रुख पर ईरान में बनी कर्बला के दृश्य को उकेरा है. तीन रुखों पर मलेशिया की अलग-अलग मस्जिदों के दृश्य उकेरे गए हैं. बिशारत अली ने बताया कि इस ताजिए को बनाने में कई कलाकार पिछले तीन महीने से लगे हुए हैं.

Latest Live TV