होम » वीडियो » शो »

हम तो पूछेंगे: क्या BJP का आरोप सही है कि आतंकवाद पर कांग्रेस का रुख़ नरम है?

शो11:55 PM IST Mar 27, 2019

आप देख रहे हैं NEWS18 इंडिया पर अपना फेवरिट डिबेट शो हम तो पूछेंगे. एक तरफ़ देशभर में भारत के महाशक्ति बनने की धूम है. तो दूसरी तरफ इस पर सियासत भी हो रही है. माहौल चुनावी है तो हर मुद्दे पर राजनीति हो रही है. जिस विपक्ष ने सेना के पराक्रम पर DGMO की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बावजूद सवाल उठाए. जिस विपक्ष ने वायुसेना की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बावजूद एयर स्ट्राइक पर सबूत मांगे. अब वही विपक्ष प्रधानमंत्री की तरफ से 'मिशन शक्ति' की उपलब्धि पर देश और वैज्ञानिकों को बधाई दिए जाने पर सवाल उठा रहा है. ये सियासत है. लोकसभा चुनाव को जो नेता लोकतंत्र का उत्सव कहते हैं... वही नेता इस उत्सव में गालियों के शब्दों की माला फेर रहे हैं. बीते कुछ दिनों से आतंकवाद और देश की सुरक्षा पर भी राजनीति हो रही है. ये राजनीति बदज़बानी की हद पार करने लगी है. चाल, चरित्र और चेहरे की बात करने वाली BJP अभद्र बयानबाज़ी करने वालों पर सख़्त कदम उठाने से कतराती रही. तो कांग्रेस ने सेना के शौर्य पर सवाल उठाने वाले ऐसे नेताओं को अहम ज़िम्मेदारियों और टिकट से नवाजा है. सैम पित्रोदा को कांग्रेस चुनाव अभियान निगरानी समिति की कमान. सिद्धू को स्टार प्रचारकों में शामिल करना और बी.के. हरिप्रसाद और दिग्विजय सिंह को चुनावी टिकट. क्या कई सारे सवाल खड़े नहीं करते? देखिए ये वीडियो.

news18 hindi

आप देख रहे हैं NEWS18 इंडिया पर अपना फेवरिट डिबेट शो हम तो पूछेंगे. एक तरफ़ देशभर में भारत के महाशक्ति बनने की धूम है. तो दूसरी तरफ इस पर सियासत भी हो रही है. माहौल चुनावी है तो हर मुद्दे पर राजनीति हो रही है. जिस विपक्ष ने सेना के पराक्रम पर DGMO की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बावजूद सवाल उठाए. जिस विपक्ष ने वायुसेना की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बावजूद एयर स्ट्राइक पर सबूत मांगे. अब वही विपक्ष प्रधानमंत्री की तरफ से 'मिशन शक्ति' की उपलब्धि पर देश और वैज्ञानिकों को बधाई दिए जाने पर सवाल उठा रहा है. ये सियासत है. लोकसभा चुनाव को जो नेता लोकतंत्र का उत्सव कहते हैं... वही नेता इस उत्सव में गालियों के शब्दों की माला फेर रहे हैं. बीते कुछ दिनों से आतंकवाद और देश की सुरक्षा पर भी राजनीति हो रही है. ये राजनीति बदज़बानी की हद पार करने लगी है. चाल, चरित्र और चेहरे की बात करने वाली BJP अभद्र बयानबाज़ी करने वालों पर सख़्त कदम उठाने से कतराती रही. तो कांग्रेस ने सेना के शौर्य पर सवाल उठाने वाले ऐसे नेताओं को अहम ज़िम्मेदारियों और टिकट से नवाजा है. सैम पित्रोदा को कांग्रेस चुनाव अभियान निगरानी समिति की कमान. सिद्धू को स्टार प्रचारकों में शामिल करना और बी.के. हरिप्रसाद और दिग्विजय सिंह को चुनावी टिकट. क्या कई सारे सवाल खड़े नहीं करते? देखिए ये वीडियो.

Latest Live TV

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार