HTP : क्या करतारपुर साहिब कॉरिडोर की आड़ में पाकिस्तान ख़ालिस्तान आन्दोलन को तूल दे रहा है?

शो11:35 PM IST Nov 28, 2018

करतारपुर साहिब कॉरिडोर की नींव रखने के मौक़े पर पाकिस्तान के मंच से आज मीठी बातें की गईं. लेकिन क्या पाकिस्तान की नीयत वाकई अच्छी है? इसकी पहली वजह सिख फॉर जस्टिस के नेता पन्नू के ख़ालिस्तान समर्थक बयान हैं. इसके बाद जो कमी थी उसे कार्यक्रम में जनरल बाजवा के साथ उस गोपाल सिंह चावला की मौजूदगी ने पूरी कर दी. जो दो दिन पहले तक ख़ालिस्तान ज़िन्दाबाद के नारे लगा रहा था, वही चावला है जो आतंकवादी हाफ़िज़ सईद के साथ पाकिस्तान में मंडराता है. यही वजह है कि बाबा गुरु नानक देव जी के तीर्थस्थल के बहाने पाकिस्तान ने दोस्ती का जो हाथ बढ़ाया, उस पर हिन्दुस्तान ऐतबार नहीं कर रहा. हिन्दुस्तान की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज ही ये साफ़ कर दिया कि पाकिस्तान में होने वाले सार्क सम्मेलन में भारत तब तक हिस्सा नहीं लेगा, जब तक पाकिस्तान आतंकवाद पर रोक नहीं लगाएगा. यानी इमरान को जुबान ही नहीं काम से भी साबित करना होगा कि वो हिन्दुस्तान की दोस्ती का हक़दार है.

प्रीति रघुनंदन

करतारपुर साहिब कॉरिडोर की नींव रखने के मौक़े पर पाकिस्तान के मंच से आज मीठी बातें की गईं. लेकिन क्या पाकिस्तान की नीयत वाकई अच्छी है? इसकी पहली वजह सिख फॉर जस्टिस के नेता पन्नू के ख़ालिस्तान समर्थक बयान हैं. इसके बाद जो कमी थी उसे कार्यक्रम में जनरल बाजवा के साथ उस गोपाल सिंह चावला की मौजूदगी ने पूरी कर दी. जो दो दिन पहले तक ख़ालिस्तान ज़िन्दाबाद के नारे लगा रहा था, वही चावला है जो आतंकवादी हाफ़िज़ सईद के साथ पाकिस्तान में मंडराता है. यही वजह है कि बाबा गुरु नानक देव जी के तीर्थस्थल के बहाने पाकिस्तान ने दोस्ती का जो हाथ बढ़ाया, उस पर हिन्दुस्तान ऐतबार नहीं कर रहा. हिन्दुस्तान की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज ही ये साफ़ कर दिया कि पाकिस्तान में होने वाले सार्क सम्मेलन में भारत तब तक हिस्सा नहीं लेगा, जब तक पाकिस्तान आतंकवाद पर रोक नहीं लगाएगा. यानी इमरान को जुबान ही नहीं काम से भी साबित करना होगा कि वो हिन्दुस्तान की दोस्ती का हक़दार है.

Latest Live TV