होम » वीडियो » शो »

HTP:क्या हमारा लोकतंत्र परिवारवाद का मोहताज है?

शो11:50 PM IST Mar 22, 2019

NEWS18 इंडिया पर अपना फेवरिट शो हम तो पूछेंगे. हिन्दुस्तान की राजनीति में सियासी वंशबेल कामयाबी की गारंटी की तरह लम्बे समय से रहा है. जो पार्टियां वंशवाद का विरोध कर अस्तित्व में आईं... और इसे अपनी विचारधारा में शामिल किया... उन पार्टियों के हुक्मरानों ने भी सत्ता मिलने के बाद वंशबेल में ही खाद-पानी डालने का काम किया. इस बार प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह की जोड़ी इस वंशबेल पर लगाम लगाने की दिशा में आगे बढ़ती दिख रही है. उत्तर प्रदेश से लेकर तमिल नाडु तक BJP की पहली लिस्ट में जिन कद्दावर चेहरों को उतारा गया है, उनमें से कई सियासी खानदान में बदल चुके चेहरों को चुनौती देंगे. ये BJP की रणनीति का हिस्सा है. BJP ने साफ कर दिया है कि वो सियासी वंशवाद का सहारा नहीं लेगी.

news18 hindi

NEWS18 इंडिया पर अपना फेवरिट शो हम तो पूछेंगे. हिन्दुस्तान की राजनीति में सियासी वंशबेल कामयाबी की गारंटी की तरह लम्बे समय से रहा है. जो पार्टियां वंशवाद का विरोध कर अस्तित्व में आईं... और इसे अपनी विचारधारा में शामिल किया... उन पार्टियों के हुक्मरानों ने भी सत्ता मिलने के बाद वंशबेल में ही खाद-पानी डालने का काम किया. इस बार प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह की जोड़ी इस वंशबेल पर लगाम लगाने की दिशा में आगे बढ़ती दिख रही है. उत्तर प्रदेश से लेकर तमिल नाडु तक BJP की पहली लिस्ट में जिन कद्दावर चेहरों को उतारा गया है, उनमें से कई सियासी खानदान में बदल चुके चेहरों को चुनौती देंगे. ये BJP की रणनीति का हिस्सा है. BJP ने साफ कर दिया है कि वो सियासी वंशवाद का सहारा नहीं लेगी.

Latest Live TV

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार