लाइव टीवी

HTP : क्या तीन तलाक़ को दंडनीय अपराध बनाए जाने का सरकार का कदम सही है?

देश News18India| November 21, 2017, 10:57 PM IST

तीन तलाक़ जैसी कुप्रथा से मुस्लिम महिलाओं को बचाने के लिए मोदी सरकार क़ानून बनाने जा रही है. इसके लिए मंत्री समूह का गठन किया जा चुका है. सूत्रों की मानें तो संसद के शीतकालीन सत्र में ही इस बिल को पेश किया जाएगा. इसके पास होते ही एक साथ तीन बार तलाक़ बोलना जुर्म हो जाएगा. कुरान में एक साथ तीन तलाक़ का जिक्र कहीं नहीं है. इसके बावजूद शरियत के पैरोकार इसे इस्लाम के मुताबिक बताते रहे हैं. पीड़ित महिलाओं के लंबे संघर्ष के बाद देश की सबसे बड़ी अदालत ने भी इसे असंवैधानिक करार दिया. मुस्लिम महिलाओं के हक़ में सरकार के उठते कदम को गुजरात चुनाव की सियासत से लेकर मज़हब में दखल तक बताया जाने लगा है.

news18 hindi
First published: November 21, 2017, 10:57 PM IST

तीन तलाक़ जैसी कुप्रथा से मुस्लिम महिलाओं को बचाने के लिए मोदी सरकार क़ानून बनाने जा रही है. इसके लिए मंत्री समूह का गठन किया जा चुका है. सूत्रों की मानें तो संसद के शीतकालीन सत्र में ही इस बिल को पेश किया जाएगा. इसके पास होते ही एक साथ तीन बार तलाक़ बोलना जुर्म हो जाएगा. कुरान में एक साथ तीन तलाक़ का जिक्र कहीं नहीं है. इसके बावजूद शरियत के पैरोकार इसे इस्लाम के मुताबिक बताते रहे हैं. पीड़ित महिलाओं के लंबे संघर्ष के बाद देश की सबसे बड़ी अदालत ने भी इसे असंवैधानिक करार दिया. मुस्लिम महिलाओं के हक़ में सरकार के उठते कदम को गुजरात चुनाव की सियासत से लेकर मज़हब में दखल तक बताया जाने लगा है.

Latest Live TV