1979 वर्ल्‍ड कप: वह टूर्नामेंट जिसमें 3 दिन तक वनडे खेलकर भी हार गया था भारत

क्रिकेट11:06 PM IST May 24, 2019

1979 वर्ल्ड कप में ना भूतो ना भविष्यति वाली तेज़ गेंदबाज़ों की चौकड़ी ने सुर्खियां बटोरी. वेस्‍ट इंडीज के लिए पहली बार रॉबर्ट्स, होल्डिंग, गार्नर और क्रॉफ्ट खेले. साथ ही पहली बार गैर-टेस्ट मुल्क ने टेस्ट टीम को हराया. यह कारनामा श्रीलंका ने भारत को हराकर किया था. इस जीत ने सबको चौंका दिया था. भारतीय टीम स्टार से भरी थी. इसमें सुनील गावस्कर, मोहिंदर अमरनाथ, गुंडप्‍पा विश्वनाथ, सैयद किरमानी और अंशुमन गायकवाड़ मौजूद थे. यह मैच तीन दिन तक चला था. पहले दिन श्रीलंका ने की बैटिंग, अगले दिन रेस्ट डे फिर अगले दिन भारत की बैटिंग. वहीं वेस्‍ट इंडीज के तेज गेंदबाज जोएल गार्नर ने 11 गेंदों के स्पैल में 5 विकेट थे. इस दौरान वे 2 बार हैट्रिक लेने से चूक गए थे. वहीं कनाडा ने अजीब रिकॉर्ड बनाया था. उसकी पूरी टीम सिर्फ 45 रन के मामूली स्कोर पर सिमट गई थी. 24 साल बाद कनाडा ने ही अपना रिकॉर्ड तोड़ा था और वह श्रीलंका के खिलाफ 2003 में 35 रन पर ऑलआउट हो गए थे.

news18 hindi

1979 वर्ल्ड कप में ना भूतो ना भविष्यति वाली तेज़ गेंदबाज़ों की चौकड़ी ने सुर्खियां बटोरी. वेस्‍ट इंडीज के लिए पहली बार रॉबर्ट्स, होल्डिंग, गार्नर और क्रॉफ्ट खेले. साथ ही पहली बार गैर-टेस्ट मुल्क ने टेस्ट टीम को हराया. यह कारनामा श्रीलंका ने भारत को हराकर किया था. इस जीत ने सबको चौंका दिया था. भारतीय टीम स्टार से भरी थी. इसमें सुनील गावस्कर, मोहिंदर अमरनाथ, गुंडप्‍पा विश्वनाथ, सैयद किरमानी और अंशुमन गायकवाड़ मौजूद थे. यह मैच तीन दिन तक चला था. पहले दिन श्रीलंका ने की बैटिंग, अगले दिन रेस्ट डे फिर अगले दिन भारत की बैटिंग. वहीं वेस्‍ट इंडीज के तेज गेंदबाज जोएल गार्नर ने 11 गेंदों के स्पैल में 5 विकेट थे. इस दौरान वे 2 बार हैट्रिक लेने से चूक गए थे. वहीं कनाडा ने अजीब रिकॉर्ड बनाया था. उसकी पूरी टीम सिर्फ 45 रन के मामूली स्कोर पर सिमट गई थी. 24 साल बाद कनाडा ने ही अपना रिकॉर्ड तोड़ा था और वह श्रीलंका के खिलाफ 2003 में 35 रन पर ऑलआउट हो गए थे.

Latest Live TV