INDvWI: पांडे, पंत और अय्यर के लिए क्यों अहम है यह वनडे सीरीज?

क्रिकेट News18Hindi| August 8, 2019, 4:34 PM IST

इंडिया और वेस्‍टइंडीज के बीच 3 वनडे की सीरीज का पहला मुकाबला गयाना में आज होना है. विश्व कप सेमीफाइनल में हार के बाद भारत का यह पहला वनडे मैच है. इसमें सलामी बल्‍लेबाज शिखर धवन पर बड़ा दबाव होगा. वे वर्ल्‍ड कप में अच्‍छी फॉर्म में थे लेकिन हालिया टी20 सीरीज में बैरंग नजर आए हैं. धवन के आने से केएल राहुल चौथे नंबर पर उतर सकते हैं. धवन की गैरमौजूदगी में वे रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग कर रहे थे. ऐसे में मिडिल ऑर्डर में मध्यक्रम में मनीष पांडे और श्रेयस अय्यर के बीच दावेदारी है. पांडे टी20 में फ्लॉप रहे थे. संभवतया उनके पास अपनी जगह इस फॉर्मेट में पक्‍की करने के लिए यह आखिरी मौका हो सकता है. शुभमन गिल जैसे युवा बाहर बैठे हैं और मौके की ताक में हैं. वहीं गेंदबाजी में नवदीप सैनी को वनडे में डेब्‍यू करने का मौका मिल सकता है. युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत पर भी दबाव होगा. उन पर धोनी का उत्तराधिकारी होने की परीक्षा पास करना जरूरी होगा. वेस्‍टइंडीज के धाकड़ बल्‍लेबाज क्रिस गेल पर भी सबकी नजरें होंगी. भारत के खिलाफ सीरीज उनकी अंतिम सीरीज है. इसके बाद वे अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह देंगे.

विमल कुमार@Vimalwa
First published: August 8, 2019, 4:33 PM IST
Latest Live TV

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज