6 दिसंबर1992 से अब तक कितना बदला देश? क्या मंडल-कमंडल की राजनीति का दौर हुआ खत्म?

Videos News18Hindi| October 1, 2020, 12:41 AM IST

6 दिसंबर 1992 को जब अयोध्या में बाबरी विध्वंस हुआ था तो देश में भूचाल आ गया था. एक तरफ सांप्रदायिक दंगे तो दूसरी तरफ सियासत की सर्जिकल स्ट्राइक ऐसी हुई कि बीजेपी की 4 राज्यों में सरकारें बर्खास्त हो गईं. देश की राजनीति के 3 दशक राम मंदिर के मुद्दे के ईर्द-गिर्द रहे. आइए जानते हैं कि बाबरी विध्वंस के बाद से अब तक कितना बदला देश. देखते हैं - पांडे जी पॉलिटिकल हैं.देखिये लोकल खबरें, लोकल अंदाज़ में सिर्फ KADAK NEWS Channel परKADAK is an Indian Hindi news channel which provides local as well as national news 24*7 with detailed news coverage. KADAK also covers Local regional stories, Entertainment News, Political News, Election News, Sports News, Cricket and Lifestyle Updates.#KADAKFollow us:Facebook:http://bit.ly/2lRMjaYWebsite: https://hindi.news18.com/Twitter: https://twitter.com/HindiNews18

First published: October 1, 2020, 5:27 AM IST
Latest Live TV

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज