VIDEO: बागेश्वर में आम की बंपर पैदावार, खरीदार न मिलने से उत्पादक निराश

उत्तराखंड03:57 PM IST Aug 10, 2018

पहाड़ में फलों के राजा आम के उत्पादन में बागेश्वर सबसे आगे है लेकिन जितना ज़्यादा आम होता है उतनी ही आम उत्पादकों की निराशा बढ़ती है. बागेश्वर ज़िले में 565 हैक्टेयर ज़मीन पर आम की पैदावार होती है. इस बार अंदाज़न 2000 मीट्रिक टन आम की पैदावार हुई है. लेकिन आम उत्पादकों को खरीदार नहीं मिल पा रहे है. इसके चलते या तो काश्तकारों को ओने-पौने दाम में आम बेचने पड़ रहे हैं. अब तो आम पेड़ पर ही पकने लगे हैं और गिरकर ख़राब हो रहे हैं. आम उत्पादकों ने सरकार से पहाड़ के आम काश्तकारों के लिए ठोस नीति बनाने की मांग की है. चिंताजनक बात यह है कि ज़िलाधिकारी ने किसानों की मदद कर पाने में असमर्थता ज़ाहिर कर दी है. यानि आम उत्पादकों को नुकसान झेलना ही पड़ेगा और उन्हें इसके लिए कोई मदद नहीं मिलेगी. (राकेश पंत की रिपोर्ट)

news18 hindi

पहाड़ में फलों के राजा आम के उत्पादन में बागेश्वर सबसे आगे है लेकिन जितना ज़्यादा आम होता है उतनी ही आम उत्पादकों की निराशा बढ़ती है. बागेश्वर ज़िले में 565 हैक्टेयर ज़मीन पर आम की पैदावार होती है. इस बार अंदाज़न 2000 मीट्रिक टन आम की पैदावार हुई है. लेकिन आम उत्पादकों को खरीदार नहीं मिल पा रहे है. इसके चलते या तो काश्तकारों को ओने-पौने दाम में आम बेचने पड़ रहे हैं. अब तो आम पेड़ पर ही पकने लगे हैं और गिरकर ख़राब हो रहे हैं. आम उत्पादकों ने सरकार से पहाड़ के आम काश्तकारों के लिए ठोस नीति बनाने की मांग की है. चिंताजनक बात यह है कि ज़िलाधिकारी ने किसानों की मदद कर पाने में असमर्थता ज़ाहिर कर दी है. यानि आम उत्पादकों को नुकसान झेलना ही पड़ेगा और उन्हें इसके लिए कोई मदद नहीं मिलेगी. (राकेश पंत की रिपोर्ट)

Latest Live TV