VIDEO: इसलिए नाराज़ हैं कुंडी के लोग... 2100 में मकान बनेगा या गोशाला

उत्तराखंड07:56 PM IST Aug 02, 2018

चमोली के प्रभारी मंत्री प्रकाश पंत को ज़िले के दौरे के दूसरे दिन धुर्मा क्षेत्र में ग्रामीणों के विरोध का सामना इसलिए करना पड़ा क्योंकि आपदा प्रभावितों को जो राहत राशि दी गई है वह बहुत कम है. हालांकि प्रशासन के मनाने पर इंटर कॉलेज मोख पहुंचे ग्रामीणों ने प्रकाश पंत के समक्ष अपनी समस्याएं रखीं. मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सरकार आपदा मद में जनपद में पांच करोड़ की राशि जारी की जा चुकी है और आगे भी धन की कमी नहीं होगी,लेकिन प्रशासन स्तर से प्रभावितों की मदद में लापरवाही को भी बख्शा नहीं जाएगा. लेकिन घर-बार गंवा चुके लोग पूछ रहे हैं कि 2100 रुपये में वह क्या-क्या करेंगे.

news18 hindi

चमोली के प्रभारी मंत्री प्रकाश पंत को ज़िले के दौरे के दूसरे दिन धुर्मा क्षेत्र में ग्रामीणों के विरोध का सामना इसलिए करना पड़ा क्योंकि आपदा प्रभावितों को जो राहत राशि दी गई है वह बहुत कम है. हालांकि प्रशासन के मनाने पर इंटर कॉलेज मोख पहुंचे ग्रामीणों ने प्रकाश पंत के समक्ष अपनी समस्याएं रखीं. मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सरकार आपदा मद में जनपद में पांच करोड़ की राशि जारी की जा चुकी है और आगे भी धन की कमी नहीं होगी,लेकिन प्रशासन स्तर से प्रभावितों की मदद में लापरवाही को भी बख्शा नहीं जाएगा. लेकिन घर-बार गंवा चुके लोग पूछ रहे हैं कि 2100 रुपये में वह क्या-क्या करेंगे.

Latest Live TV