VIDEO : राफ्टिंग सेंटर में बांधे जाते हैं घोड़े-खच्चर क्योंकि...

उत्तराखंडMarch 7, 2018, 6:41 PM IST

चमोली के देवलीबागड के राफ्टिंग सेंटर में अब कौए बोलते हैं. लोकल लोगों को रोज़गार और पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ये सेंटर बनाया गया था. लेकिन सरकारी मशीनरी के हाल और बजट ना मिलने के कारण काम पूरा नहीं हो पाया और तब से आधा-अधूरी ही बंद पड़ा है. नया भवन खंडहर हो रहा है. खिड़की-दरवाज़ों के कांच टूटे पड़े हैं. फर्श उखड़ रहा है. चारों तरफ जंगली झाड़ियां उग आयी हैं और पर्यटकों के लिए बनायी गयी हट में घोड़े-खच्चर बंधे रहते हैं.

Prabhat Purohit

चमोली के देवलीबागड के राफ्टिंग सेंटर में अब कौए बोलते हैं. लोकल लोगों को रोज़गार और पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ये सेंटर बनाया गया था. लेकिन सरकारी मशीनरी के हाल और बजट ना मिलने के कारण काम पूरा नहीं हो पाया और तब से आधा-अधूरी ही बंद पड़ा है. नया भवन खंडहर हो रहा है. खिड़की-दरवाज़ों के कांच टूटे पड़े हैं. फर्श उखड़ रहा है. चारों तरफ जंगली झाड़ियां उग आयी हैं और पर्यटकों के लिए बनायी गयी हट में घोड़े-खच्चर बंधे रहते हैं.

Latest Live TV