VIDEO: जीवीके के ख़िलाफ़ आंदोलन पहुंचा राजधानी, गांधी पार्क में उपवास

उत्तराखंड07:15 PM IST Oct 10, 2018

उत्तराखण्ड संवैधानिक अधिकार संरक्षण मंच जीवीके कंपनी के ख़िलाफ़ अपने आंदोलन को राजधानी देहरादून ले आया है. मंच के नेतृत्व में श्रीनगर में अलकनंदा पर बने हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के प्रभावितों ने गांधी पार्क में एक दिन का धरना दिया, उपवास किया. बता दें कि उत्तराखंड की आर्थिक राजधानी श्रीनगर में जीवीके ने अलकनंदा पर हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट बनाया है. इस प्रोजेक्ट से 2014 से 330 मेगावाट बिजली उत्पादन भी शुरू हो गया लेकिन जिन किसानों की ज़मीन 2006 में कंपनी ने परियोजना बनाने के लिए ली थी उन्हें आज तक पुनर्वास पैकेज नहीं दिया गया. लगभग 476 परिवार आज भी पुनर्वास पैकेज की लड़ाई लड़ रहे हैं. परियोजना निर्माण के काम के दौरान धारी देवी के मंदिर को भी शिफ़्ट कर दिया गया था. धारी देवी को चार धाम की रक्षा करने वाली माना जाता है.

news18 hindi

उत्तराखण्ड संवैधानिक अधिकार संरक्षण मंच जीवीके कंपनी के ख़िलाफ़ अपने आंदोलन को राजधानी देहरादून ले आया है. मंच के नेतृत्व में श्रीनगर में अलकनंदा पर बने हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के प्रभावितों ने गांधी पार्क में एक दिन का धरना दिया, उपवास किया. बता दें कि उत्तराखंड की आर्थिक राजधानी श्रीनगर में जीवीके ने अलकनंदा पर हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट बनाया है. इस प्रोजेक्ट से 2014 से 330 मेगावाट बिजली उत्पादन भी शुरू हो गया लेकिन जिन किसानों की ज़मीन 2006 में कंपनी ने परियोजना बनाने के लिए ली थी उन्हें आज तक पुनर्वास पैकेज नहीं दिया गया. लगभग 476 परिवार आज भी पुनर्वास पैकेज की लड़ाई लड़ रहे हैं. परियोजना निर्माण के काम के दौरान धारी देवी के मंदिर को भी शिफ़्ट कर दिया गया था. धारी देवी को चार धाम की रक्षा करने वाली माना जाता है.

Latest Live TV